अम्बेडकरनगर: किछौछा दरगाह में स्थित सीसे वाली मज़ार के सज्जादानशीन रहे स्वर्गीय सैय्यद कुमैल अशरफ के छोटे भाई व कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष सैय्यद मेराजुद्दीन किछौछवी के मामू सैय्यद सुहैल अशरफ का मुम्बई में कोविड-19 की चपेट में आने से इंतेक़ाल हो गया है। श्री सुहैल महाराष्ट्र सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं।


रूहानी इलाज के लिए विश्व प्रसिद्ध दरगाह किछौछा में स्थित प्रख्यात सीसे वाली मज़ार दरगाह के सज्जादानशीन रहे स्वर्गीय सैय्यद कुमैल अशरफ के छोटे भाई एवं महारष्ट्र सरकार के पूर्व मंत्री सैय्यद सुहैल अशरफ का मुम्बई के पवई में स्थित हीरा नंदानी हॉस्पिटल में शनिवार को इंतेक़ाल हो गया है। स्वर्गीय श्री सुहैल कांग्रेस पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष सैय्यद मेराजुद्दीन किछौछवी के मामू थे। श्री मेराजुद्दीन ने सैय्यद सुहैल अशरफ के इंतेक़ाल की पुष्टि करते हुए कहा कि श्री सुहैल अशरफ का शव उनके पैतृक आवास बसखारी लाने के लिए महाराष्ट्र सरकार से बातचीत हो रही है और सफलता मिलने पर रविवार को दरगाह किछौछा में सुपुर्दे खाक किया जाएगा। श्री सुहैल काफी दिनों से बीमार भी चल रहे थे जिनका पवई में स्थित हीरा नंदानी हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था। शनिवार को अस्पताल प्रशासन ने उनकी हृदयगति रुकने की पुष्टि कर दिया जिससे शोक की लहर दौड़ गई।