अम्बेडकरनगर: टाण्डा तहसील प्रशासन द्वारा केबीसी पब्लिक स्कूल में बनाए गए अस्थाई कोरनटाउन सेंटर में 48 लोगों की सेवा में कई विभाग की टीम जुटी हुई है जिसका जिलाधिकारी व पुलिस कप्तान ने औचक निरीक्षण कर सराहना किया।
टाण्डा-एनटीपीसी मार्ग पर स्थित केबीसी पब्लिक स्कूल के कई कमरों में बाहर से तहसील प्रशासन ने अस्थाई कोरनटाईन सेंटर बनाया है जिसमे बाहर से आने वाले 80 लोगों को रखा जा सकता है। बीती रात्रि बाहर आने वाले 48 लोगों को कोरनटाईन किया गया है जिसमें सिद्धार्थनगर के तीन, आज़मगढ़ के छः लोगों के अलावा सभी लोग अम्बेडकरनगर के ही हैं। उप जिलाधिकारी अभिषेक पाठक व सीओ अमर बहादुर लगातार कोरनटाईन सेंटर की मॉनिटरिंग करते नज़र आ रहे हैं। तहसीलदार संतोष कुमार ओझा की देखरेख में संचालित हो रहे कोरनटाईन सेंटर में सप्लाई इंस्पेक्टर मो.मोहीद खान के नेतृत्व में खाने की शानदार व्यवस्था की गई है जबकि नगर पालिका के मो.हुसैन व मो. सुहैल के नेतृव में सफाई व सेनेटाइजरिंग की जा रही है। पूरी व्यवस्था को व्यवस्थित करने में कानूनगो गुलाब सिंह, कानून गो वंश गोपाल दूबे, लेखपाल छोटे लाल, लेखपाल हरिलाल, संग्रह अनु सेवक मो.उवैस, दुर्गा प्रसाद, अशोक कुमार टंडन, मयाराम आदि जूट हुए हैं। टाण्डा कोरनटाईन सेंटर का ज़िलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र, पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी व अपर सीएमओ डॉक्टर ए.के.गुप्ता ने औचक निरीक्षण किया। कोरनटाईन सेंटर की व्यवस्थाओं को देखकर ज़िलाधिकारी ने प्रसन्नता प्रकट किया। तहसीलदार श्री ओझा ने बताया कि सभी लोगों को अलग अलग साबुन दिया गया है तथा प्रातः काल बिस्किट की पैकेट, केक व पानी की बोतल दी गई जिसके बाद पूड़ी सब्जी का नाश्ता दिया गया जबकि दोपहर में तहरी दिया गया और शाम में बिस्कुट चाय का नाश्ता व रात्रि में पूड़ी सब्जी व दाल चावल खिलाया जाना है तथा गैर जनपद के लोगों को उनके जनपदों में भेजने की व्यवस्था की जा रही है।
बहरहाल टाण्डा कोरनटाईन सेंटर में चार दर्जन लोगों को रखा गया है जिनका समय समय पर स्वास्थ परीक्षण करने के साथ समस्त व्यवस्थाएं की है।

टाण्डा में संक्रमित परिवार की जांच के बाद मचा हड़कम्प – जिला पर रिफर