अम्बेडकरनगर (सूचना न्यूज़ कार्यालय) जनसमस्याओं के निराकरण के संबंध में निर्गत शासनादेश के क्रम में कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत जन समस्याओं के निराकरण हेतु कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन कराते हुए संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन सभी तहसीलों में किया गया।
तहसील टांडा में संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर नायब तहसीलदार के समक्ष कुल 85 शिकायती प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए। मौके पर 13 शिकायती प्रार्थना पत्रों का निस्तारण कर दिया गया तथा शेष 72 शिकायती प्रार्थना पत्रों को निस्तारण हेतु संबंधित विभाग के अधिकारियों को प्राप्त करा दिया गया।
तहसील आलापुर में संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर नायब तहसीलदार के समक्ष कुल 99शिकायती प्रार्थना पत्र प्राप्त हुई। जिसमें 06 शिकायती प्रार्थना पत्रों का मौके पर निस्तारण कर दिया गया तथा शेष 93 शिकायती प्रार्थना पत्रों को निस्तारण हेतु संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए।
तहसील अकबरपुर में संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर नायब तहसीलदार के समझ 146 शिकायती प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए ।जिसमें से 07 शिकायती पत्रों का मौके पर निस्तारण कर दिया गया तथा शेष 139 शिकायती प्रार्थना पत्रों को निस्तारण हेतु संबंधित विभाग के अधिकारियों को प्राप्त करा दिया गया।
तहसील जलालपुर में संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर नायब तहसीलदार के समक्ष कुल 189 शिकायती प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए ।जिसमें से 07 शिकायती प्रार्थना पत्रों का मौके पर निस्तारण करा दिया गया तथा शेष 182 शिकायती प्रार्थना पत्रों को निस्तारण हेतु संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए गए ।
तहसील भीटी के संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर नायब तहसीलदार के समक्ष कुल 120 शिकायती प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए । जिसमें से 01 शिकायती प्रार्थना पत्र को मौके पर निस्तारण करा दिया गया तथा शेष 119 शिकायती प्रार्थना पत्रों को संबंधित विभाग के अधिकारियों को निस्तारण हेतु प्राप्त करा दिया गया।


हमारे जलालपुर संवाददाता गोपाल सोनकर के अनुसार मुख्य विकास अधिकारी घनश्याम मीणा की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन हुआ। महीने के प्रथम और तृतीय शनिवार को संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित करने के डीएम के आदेश के उपरांत तहसील सभागार में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। सुबह से खराब मौसम के बावजूद तहसील दिवस में फरियादियों की भीड़ उमड़ पड़ी। हालांकि जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक के मौजूदगी ना होने के कारण लोगों में काफी निराशा हुई । आज कुल 189 फरियादियों ने तहसील दिवस में अपने प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किए जिनमें से मात्र 7 का निस्तारण किया जा सका। कई अधिकारियों के टीजीटी परीक्षा में ड्यूटी लगी होने के चलते कुछेक विभागों के कर्मचारियों ने तहसील दिवस में अपने विभाग की तरफ से प्रतिभाग किया।उप जिला अधिकारी अभय कुमार पांडेय, खंड विकास अधिकारी जलालपुर मोहम्मद आरिफ, बीडीओ भियांव एके पांडेय,समाज कल्याण एडीओ विशाल यादव सहित अनेक अधिकारी उपस्थित रहे।
बहरहाल कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए शासन द्वारा शनिवार व रविवार को कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है और कोरोना कर्फ्यू के दिन सम्पन्न हुए सम्पूर्ण संधान दिवस में अधिकांश वादकारियों की शिकायतों का निस्तारण नहीं हो सका है जिससे वादकारियों के हाथ निराशा लगी है।