मुंबई की लोकल में दे रहे थे सिंगापुर व कुवैत के फ़र्ज़ी जॉब ऑफर – पुलिस ने किया गिरफ़्तार

Sharing Is Caring:
सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

 


देश भर की ट्रेनों में अक्सर बाजार लगते हैं। कई लोग दोपहर या शाम और रात के वक्त अलग-अलग कोचों में सामान बेचते आपको नज़र आ जाएंगे लेकिन अपनी तरह के अनूठे मामले में मुंबई की लोकल में विदेश में जॉब के ऑफर दिए जा रहे थे।

डीसीपी राज तिलक रौशन ने बताया कि उनकी टीम ने शाहिद हुसैन और मोहम्मद 100 से ज्यादा लोगों को ठगा, दो गिरफ्तार नाजिम नामक दो लोगों को इस केस में गिरफ्तार किया है। इन लोगों ने 100 से ज्यादा लोगों को ठगा। हर व्यक्ति से 80 हजार से एक लाख रुपये तक लिए गए। एसीपी महेश देसाई और सीनियर इंस्पेक्टर लक्ष्मीकांत सालुंखे के अनुसार, यह रैकेट पिछले कई साल से चल रहा था। दोनों आरोपी आखिरी बार साल 2016 में भांडुप पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए। उसके बाद इन्होंने मीरा रोड, जोगेश्वरी, खार व कई अन्य जगह दफ्तर खोले। इन लोगों ने पैम्फलेट बनवाए। उसमें सिंगापुर, कुवैत में नौकरी के ऑफर लिखे गए। पैम्फलेट में मोबाइल नंबर भी लिखा रहता था, लेकिन अड्रेस नहीं। यह लोग खुद ही लोकल ट्रेन व बसों में सफर करते थे और यात्रियों को यह पैम्फलेट बांटते थे। बाद में जब लोग उन्हें फोन करते थे, तो वह किसी ऑफिस में उन्हें बुलाते थे। उनसे वहां मेडिकल कराने को कहा जाता था। इसकी पांच से दस हजार रुपये फीस ली जाती थी। बाद में सामने वाले को बताया जाता था कि कौन-कौन सी नौकरियां वह कुवैत व सिंगापुर में कर सकते हैं और उन्हें वहां क्या सैलरी मिलेगी? जब सामने वाला आश्वस्त हो जाता था, तो उसका यह लोग पासपोर्ट ले लेते थे, ताकि उसका वीजा बनवाया जा सके। वीजा व अन्य फीस के नाम पर मोटी रकम ले लेते थे। बाद में फर्जी वीजा सामने वाले के मोबाइल पर वॉट्सऐप कर देते थे। कूरियर से सामने वाले को उसका पासपोर्ट भेज देते थे। जॉब का ऑफर लेटर भी। जॉइनिंग डेट 45 दिन के बाद की होती थी।
इस दौरान आरोपी अपना ऑफिस बंद कर देते थे और दूसरी जगह शिफ्ट हो जाते थे। जब सीनियर इंस्पेक्टर लक्ष्मीकांत सालुंखे को आरोपियों के मरीन लाइंस में नए ऑफिस का पता चला, तो रविवार को वहां रेड डाली गई और विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर तमाम फर्जी दस्तावेज जब्त किए गए। एक पुलिस अधिकारी के अनुसार, यह लोग पैम्फलेट रेलवे स्टेशनों, बस स्टैंड के पास चिपकाते नहीं थे, ताकि जांच एजेंसियों की रेडार पर अपने आप न आएं।

अन्य खबर

डीजे बजाने से मना करने पर दबंगों ने डीजे संचालक की जमकर की पिटाई – मुकदमा दर्ज

अज्ञात वृद्ध ने घाघरा नदी में लगाई छलांग – तलाश जारी

संदिग्ध हालत में तालाब से बरामद हुआ 27 वर्षीय युवक का शव – पोस्टमार्टम 

error: Content is protected !!