सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: नगर पंचायत अशरफपुर किछौछा के बसखारी बाजार में स्थित प्रसिद्ध समाजसेवी बख्शीस खान द्वारा बनाई गई सीढ़ी पर आखिरकार नगर पंचायत अशरफपुर किछौछा का बुल्डोजर चल गया। पीड़ित बक्शीस खान का आरोप है कि मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के द्वारा स्थगन आदेश पारित किया गया था लेकिन न्यायलय के उक्त आदेश को दरकिनार कर उनकी सीढ़ी पर बुल्डोजर चला कर उसे ध्वस्त कर दिया गया।


दूसरी तरफ नगर पंचायत अशरफपुर किछौछा के अधिशाषी अधिकारी विनय द्विवेदी ने बताया कि बख्सीश खान द्वारा बिना मानचित्र के भवन निर्माण कराया जा रहा था जिसके सम्बन्ध मर नियमानुसार कई बार नोटिस जारी की गई और गत 08 फरवरी को अंतिम नोटिस उनके भवन पर चस्पा कर दी गई थी लेकिन उनके द्वारा कोई जवाब नहीं दिया गया और ना ही किसी न्यायालय के स्थगन आदेश की उन्हें जानकारी है।
बताते चलेंकि बसखारी चौराहा से अकबरपुर जाने वाले मुख्य पर स्थित बक्शीस खान का भवन है जिसमें विद्यालय भी संचालित होता है और श्री बक्शीस का दावा है कि उन्होंने अपनी आराजी गाटा संख्या 443 क पर पुराना भवन निर्माण है जिसमें उनके रिहायश के लिए सीढ़ी बनी हुई है लेकिन राजनीतिक द्वेष भावना के कारण उन्हें हैरान व परेशान किया जा रहा है जबकि मुख्य मार्ग पीडब्ल्यूडी के मानक से दूरी पर उनका भवन व सीढ़ी है और नगर पंचायत की अंतिम नोटिस के बाद न्यायालय द्वारा त्वरित सुनवाई के उपरांत स्टे आदेश जारी किया हुआ है लेकिन फिर भी बुल्डोजर चला कर उनके भवन को क्षति पहुंचा दी गई है जिससे वो काफी हैरान हैं।
बहरहाल सीजेएम न्यायालय द्वारा नगर पंचायत की अंतिम नोटिस पर रोक लगाने के बावजूद नगर पंचायत का बुल्डोजर चला और ईओ ने साफ तौर पर कह दिया कि उन्हें किसी स्टे की जानकारी ही नहीं है जो चर्चा का विषय बना हुआ है।

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now