सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

आजीवन निर्धन असहाय बहन बेटियों का विवाह कराने की शपत दोहराते हुए सेवाहि धर्म:के संरक्षक वरिष्ठ समाजसेवी धर्मवीर सिंह बग्गा ने गणतंत्र दिवस पर भव्य सर्वधर्म सामूहिक विवाह समारोह आयोजित कर 16 जोड़ों का विवाह सिख पंथ के अनुसार कराते हुए सभी नवविहित जोड़ों को दैनिक घरेलू उपयोग की वस्तुएं उपहार स्वरूप भेंट कर विदाई कराया। प्राचीन औद्योगिक बुनकर नगरी टाण्डा के मेला गार्डेन में सर्वधर्म सामूहिक विवाह का भव्य मण्डप गणतन्त्र दिवस के अवसर पर रविवार को सजाया गया था जिसमें 16 जोड़ों का सामूहिक विवाह सम्पन्न कराया गया। उक्त अवसर पर कई विभूतियों को सम्मनित भी किया गया।
कार्यक्रम का शुभारंभ व सांस्कृतिक कार्यक्रम
सेवाहि धर्म:टीम के संरक्षक वरिष्ठ समाजसेवी धर्मवीर सिंह बग्गा ने तिरंगा लहराते हुए राष्ट्रगान के साथ समारोह का भव्य शुभारम्भ किया। जिसके बाद आर.के.पब्लिक स्कूल की छात्राओं द्वारा ‘कन्या भ्रूण हत्या’ के प्रति लोगों को जागरूक करते हुए बेटी बचाओ अभियान में श्री बग्गा का सहयोग करने की अपील किया। सुल्तानपुर से पूरी टीम के साथ आए प्रसिद्ध भजन गायक सलीम खान ने अपनी गीतों से लगातार वैवाहिक माहौल को खुशनुमा बनाए रखा तथा फैज़बाद से आए मंच संचालक अज़हर भाई ने अपने निराले अंदाज में लोगों को एक धागे में बांधे रखा था।
550वें प्रकाशपर्व को समर्पित था 17वां कार्यक्रम
सर्वधर्म सामूहिक विवाह कार्यक्रम का 17 वां वार्षिक समारोह सिख पन्थ के प्रवर्तक श्री गुरु नानक देव जी महाराज के 550वें प्रकाशपर्व को समर्पित किया गया था। प्रकाश पर्व को समर्पित समारोह के कारण विवाह को सम्पन्न कराने की ज़िम्मेदारी स्थानीय गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा को सौंपी गई थी। विवाह सम्पन्न कराने के उद्देश्य से मेल गार्डेन में अस्थाई दरबार सजाया गया था जिसमें पवित्र गुरु ग्रन्थ साहब को बड़े ही आदर के साथ लाया गया।सर्वप्रथम पवित्र गुरुग्रन्थ साहेब के समक्ष माथा टेक सामूहिक विवाह को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए अरदास किया गया। अरदास गुरुवाणी शबद के साथ विवाह कार्यक्रम को गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा के ज्ञानी लवप्रीत सिंह द्वारा सम्पन्न कराया गया जिसे आंनद कारज कहा जाता है। उक्त आनंद कारज में 16 जोड़ों का विवाह सिख पन्थ की मान्यता के अनुसार सम्पन्न कराया गया।
वर-वधु को आशीर्वाद देने पहुंची हस्तियां
सर्वधर्म सामूहिक विवाह कार्यक्रम अपने आप मे अनोखा व निराला कार्यक्रम है जिसमें जनपद ही हैं बल्कि कई अन्य जनपदों की हस्तियों ने पहुंच कर वविवाहित वर-वधु को आशीर्वाद दिया जिसमें मुख्य रूप से पूर्व एमएलसी अजय कुमार उर्फ विशाल वर्मा, रामजन्म भूमि राम लल्ला के मुख्य अर्चक पुजारी सत्येंद्र दास, बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी, सांसद रितेश पाण्डेय, भाजपा जिलाध्यक्ष कपिलदेव वर्मा, उप ज़िलाधिकारी महेंद्र वाला सिंह, सीओ अमर बहादुर, सेवानिवृत्त सीओ के.के.मिश्र, सरदार सतनाम सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष सुधीर सिंह मिंटू, हरिपाल सिंह जग्गी, मनमीत गुप्ता, एमएलसी हीरालाल यादव, सपा जिलाध्यक्ष रमा सकल यादव, पूर्व मंत्री राममूर्ति वर्मा, पूर्व मंत्री गोपीनाथ वर्मा, शेष कुमार वर्मा, सैय्यद आबिद हुसैन, विमलेंद्र प्रताप सिंह मोनू, विंध्याचल सिंह, संजय सिंह, हाजी अकमल जुगनू, नवीन कुमार वर्मा, हाजी जावेद अंसारी, अनवर सादात अंसारी, रमेश कसौधन, बजरंगी जायसवाल, मुजीब अहमद सोनू, कसीम अशरफ, महंत चन्द्र प्रकाश त्रिपाठी, हाजी सरवर अंसारी, मेजर बलराम त्रिपाठी, रघुनाथ यादव, अधिवक्ता शहिद, जंग बहादुर यादव, वरिष्ठ समाजसेवी प्रभात यादव, अधिवक्ता नरेंद्र पाण्डेय, अधिवक्ता दिलीप मांझी, अंजू दूबे, बलराम गौतम, सैय्यद कैसर हुसैन, सरदार परमजीत सिंह, सैय्यद मोहसिन, मो.अमजद खान, अधिवक्ता अजय प्रताप श्रीवास्तव, रूपम सिंह, करन सिंह, गुरुबख्श सिंह सोनू, प्रदुमन यादव, आशुतोष पाण्डेय, डॉक्टर इश्तियाक अंसारी आदि शामिल रहे।
1000 बहन बेटियों का लक्ष्य लगभग पूरा
वरिष्ठ समाजसेवी धर्मवीर सिंह बग्गा के अतिकरीब मित्र पूर्व एमएलसी कुमार उर्फ विशाल वर्मा के एमएलसी चुनाव के दौरान सन 2003 में घटी एक घटना से प्रेणा लेकर 1000 निर्धन बहन बेटियों के विवाह का संकल्प लेते हुए श्री बग्गा ने कहा था कि जब तक मेरा लक्ष्य पूरा हैं हो जाता है तब तक अपनी बेटी का विवाह नहीं करूंगा। उनके इस संकल्प में उनकी धर्मपत्नी सहित पूरे परिवार ने पूर्ण सहयोग दिया। विषम परिस्थितियों में भी उन्होंने अपने संकल्प को नहीं टूटने दिया। अपने लक्ष को पूरा करने के उद्देश्य से सामूहिक आयोजनों के अलावा एक दो विवाह भी पूरे वर्ष कराते रहते हैं। लगभग 900 बहन बेटियों का विवाह कराने पर जब श्री बग्गा को अहसास हुआ कि शीघ्र उनका लक्ष्य पूरा हो जाएगा तो उन्होंने बाद ऐलान करते हुए कहा कि अब आजीवन बहन बेटियों का अविवाह करेंगे। श्री बग्गा के इस बड़े फैसले का जहां परिजनों ने बढ़ कर स्वागत किया है वहीं क्षेत्र में भी खूब सराहना हो रही है।
विभूतियों को मिला विभिन्न सम्मान
प्रत्येक वर्ष सेवाहि धर्म:टीम द्वारा सामाजिक कार्य करने वाली विभूतियों को शाने अवध सम्मान दिया जाता है। इस वर्ष लखनऊ के प्रसिद्ध समाजसेवी हरिपाल सिंह जग्गी, फैज़ाबाद जी-न्यूज के मनमीत गुप्ता, डॉक्टर आशीष पाण्डेय, एनटीपीसी गरिमा महिला मण्डल की अध्यक्ष सवर्ण लता राव सहित विदेश में फंसे भारतीयों की मदद करने वाले बजरंगी भाई जान के नाम से मशहूर सामजिक कार्यकर्ता सैय्यद आबिद हुसैन को सिरोपा (अंगवस्त्र) व शाने अवध एवार्ड देकर सम्मनित किया गया है। जबकि रामजन्म भूमि मन्दिर के मुख अर्चक पुजारी सत्येंद्र दास व बाबरी मस्जिद के प्रमुख पक्षकार इकबाल अंसारी को अंगवस्त्र व प्रशस्तिपत्र आदि देकर ‘अमन के फ़रिश्ते’ सम्मान से सम्मनित किया गया है तथा स्थानीय रूप से सामाजिक सेवा में उत्कृष्ट कार्य करने वाले हाजी अकमल जुगनू, डॉक्टर आर.एस. मौर्य, रवि श्रीवास्तव, अफरोज अंसारी, मो.अकमल, गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी को सम्मानित किया गया तथा शिक्षा के क्षेत्र में मेजर बलराम त्रिपाठी, हिमांशी मित्तल, नरेंद्र प्रसाद पांडेय, अधिवक्ता शाहिद, रातकेश्वर मिश्रा को सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम में लगभग डेढ़ दर्जन पत्रकारों को भी ‘शान’एवार्ड दिया गया जिसमें प्रतीक सोनी, सुदीप शुक्ला, राम गोपाल सोनी, के के उपाध्याय, आज़म अंसारी, सत्येंद्र यादव, बचुली मिश्र, बृजेश उपाध्याय, रामकुमार सोनी, यूसुफ सिद्दीकी, अनुराग वर्मा, दुष्यंत यादव, नौशाद खान, काशी मिश्रा, सरफ़राज़, मनीष मिश्रा शामिल हैं। सेवाहि धर्म:टीम द्वारा एसडीएम एमपी सिंह, सीओ अमर बहादुर, कोतवाली संजय कुमार पांडेय व रिटायर्ड सीओ के के मिश्रा को भी अंगवस्त्र भेंट कर सम्मानित किया गया।
गैर जनपदों से भी आई थी बारात-जानिए नाम
सामुहिक विवाह कार्यक्रम में 16 बहन बेटियों का विवाह काफी धूमधाम से सम्पन्न कराया गया जिसमें जनपद के अतिरिक्त अयोध्या व आज़मगढ़ से भी बारातें आई हुई थी जिनका मेला गार्डेन में भव्य स्वगात किया गया। शिवमती, भानमती व पुष्पा की बारात अयोध्या से आई थी जबकि शिवानी की बारात आज़मगढ़ से आई थी और कंचन का विवाह बहराइच हुआ है। कन्याकुमारी, गुंजा व सीमा के पिता हैं जबकि रिंक कुमारी व सीमा की माता नहीं है।
सेवाहि धर्म:टीम ह काबिले तारीफ
सेवाहि धर्मा: टीम की क्षेत्र में भूरी-भूरी सराहना हो रही है। वरिष्ठ समाजसेवी धर्मवीर सिंह बग्गा के नेतृत्व में अबु उसामा, सरफराज अहमद, अरविंद वर्मा, मुरली राजभर, भूपेश उर्फ डब्बू जायसवाल, पवन मौर्य, अंकित बग्गा, आनंद अग्रवाल, रंजीत वर्मा, मानस आदि मुख्य रूप से लगातार सामाजिक कार्यों में जुटे रहते हैं। सेवाहि धर्म:टीम द्वारा नेकी की दीवार के सहारे जरूरत मन्दों को कपड़ा आदि उपलब्ध कराया जाता है तथा प्रत्येक दिन दो समाय भोजन बैंक के माध्यम से निःशुल्क लंगर चला आकर जरूरत मन्दों का पेट भरने के प्रयास किया जाता है। टीम द्वारा सबसे बड़ी सेवा के तहत लावारिश शवों का अंतिम संस्कार किया जाता है जो काबिले तारीफ है।
विशेष जलपान व भोजन की रही व्यवस्था
मेला गार्डेन पर रविवार को सम्पन्न हुई सर्वधर्म सामुहिक विवाह समारोह के दौरान वर व वधु पक्ष के रिश्तेदारों सहित सभी अतिथियों के लिए जलपान सहित विशेष भोजन की भी व्यवस्था की गई थी। 16 बहन बेटियों के बारातियों के लिए कई तरह के स्टाल भी लगाए गए थे। हज़ारों मेहमानों के लिए उच्च क्वालिटी का शाकाहारी भोजन तैयार कराया गया था।उपहार स्वरूप दिये गए घरेलू सामान
वरिष्ठ समाज सेवी श्री बग्गा ने सभी बहन बेटियों का विवाह सम्पन्न कराने के उपरांत उन्हें उपहार भेंट कर विदा दिया। उपहार में बेड, रजाई, गद्दा, साइकिल, कुर्सी, पंखा, डिनर सेट, बड़ा बक्स आदि मौजूद रहा। उपहार वर पक्ष के लोगों को सौंपा गया।

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now