सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: कोरोना वायरस की महामारी में जहाँ पूरा देश लॉक डाउन का पालन कर रहा है वहीं विश्व प्रसिद्ध हजरत सैय्यद मखदूम अशरफ जहाँगीर सिमनानी की दरगाह किछौछा में भी ज़बरदस्त सन्नाटा पसरा हुआ है यहाँ पर यूँ तो प्रतिदिन हज़ारों की भीड़ मौजूद होती है लेकिन प्रत्येक सप्ताह गुरुवार के दिन लाखों की संख्या में जायरीन पहुँचकर अपनी-अपनी मन्नतें और मुरादे मांगते है लेकिन देश के प्रधानमंत्री के आवाहन के बाद शुरू हुए लॉक डाउन -02 के प्रथम गुरुवार को दरगाह परिक्षेत्र में भारी सन्नाटा नज़र आया।दरगाह परिक्षेत्र में लॉक डाउन का इतनी सख्ती के साथ पालन किया जा रहा है कि लगभग 08 से 10 हजार जायरीन यहाँ फंसे हुए है लेकिन सभी अपने-अपने कमरों में इस तरह दुबके हुए हैं कि कोई आवाज़ तक नहीं सुनाई पड़ रही है। गुरुवार को सूचना न्यूज़ टीम ने आस्ताना-ए-मखदूम पर पहुंच कर पसरे सन्नाटे की वास्तविकता को स्वयं परखा और पूर्ण लॉक डाउन के दावे को सत्य पाया। स्थानीय लोगों का कहना है कि दरगाह में इससे पहले इस तरह का सन्नाटा कभी नहीं देखा गया था।

मुम्बई व इंदौर से आए 23 लोगों को टाण्डा एसडीएम व सीओ ने कराया कोरन्टीन