अम्बेडकरनगर: हरित क्रान्ती के नायक बाबू जयराम वर्मा की 116वीं जयंती विभिन्न स्थानों पर काफी धूमधाम से मनाई गई।एक तरफ जहाँ कलेक्ट्रेट परिसर के समीप भव्य कार्यक्रम अयोजित कर जहाँ स्व.जयराम वर्मा की जयंती मनाई गई वहीं डिवाइन पब्लिक स्कूल गौहन्ना में भी भव्य जयंती समारोह सम्पन्न हुआ।

जनपद मुख्यालय पर स्थित कलेक्ट्रेट परिसर के समीप भाजपा जिलाध्यक्ष कपिलदेव वर्मा की अध्यक्षता में आयोजित पूर्वान्चल के गांधी बाबू जयराम वर्मा जी की 116वीं जयंती समारोह का उद्घाटन डॉक्टर अमित पटेल ने किया जिसमें पूर्व एमएलसी अजय कुमार उर्फ विशाल वर्मा, रजनीश पटेल, अरविंद वर्मा, श्रीनिवास वर्मा, पवन वर्मा, सरदार सेना के जिलाध्यक्ष बृजेश कुमार, चन्द्रेश वर्मा, मौलिक अधिकार पार्टी जिलाध्यक्ष मनजीत राजभर आदि ने मुख्य रूप से कार्यक्रम में शामिल होकर खुशियां मनाई। दूसरी तरफ दोस्तपुर रोड के गौहन्ना में संचालित डिवाइन पब्लिक स्कूल में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व.जयराम वर्मा की 116 वीं जयंती के मौके पर छात्राओं द्वारा ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी पेश किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पी.के शुक्ला जेल अधीक्षक ने सम्बोधन के दौरान कहा कि पूर्वांचल के बापू पूर्व मंत्री स्वर्गीय जयराम वर्मा ने कृषि व्यवस्था को आधुनिक तकनीकी से जोड़ने के साथ साथ पूर्वांचल में शिक्षा व्यवस्था में आमूल चूल सुधार के लिए प्रसंशनीय कार्य किया है। विशिष्ट अतिथि कमला प्रसाद वर्मा ने कहा कि आज हमे श्री वर्मा जी के पद चिन्हों चलने की प्रेरणा लेनी चाहिए। राजनीतिक जीवन मे श्री वर्मा फैजाबाद और अम्बेडकरनगर जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों में कई विद्यालयों की स्थापना कर शिक्षा की ज्योति जलाने में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। वे अपने सादगी भरे राजनीतिक जीवन में श्री वर्मा ने आजादी की लड़ाई में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया और गांधी जी के अति करीबियों में शुमार रहे, इसलिए इन्हें पूर्वांचल के बापू के नाम जाना जाता है श्री वर्मा 1952 में गठित पहली विधानसभा सीट अकबरपुर से विधायक निर्वाचित हो कर आजाद भारत की राजनीति में अपनी शुरुआत की थी। कार्यक्रम में राम उजागिर वर्मा, सिया राम वर्मा, कपिल देव वर्मा बीजेपी जिलाध्यक्ष, विशाल वर्मा पूर्व एमएलसी सपा, शोभाराम पटेल अभिनव वर्मा आदर्श चौधरी रूद्र प्रकाश वर्मा वीरेंद्र वर्मा दिनेश चौधरी सुरेश वर्मा आशुतोष वर्मा सरस पटेल दिनेश सिंह बंटी सिंह ब्लाक प्रमुख दोस्तपुर आदि वरिष्ठ लोग उपस्थित रहे। जयन्ती कार्यक्रम राष्ट्रगान के साथ सम्पन्न हुआ।