सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: दिल्ली के निजामुद्दीन में संचालित इस्लामिक जमात के सेंटर (मरकज़) सहित अन्य स्थानों से लौट कर आए लोगों को महामाया मेडिकल कालेज से गुरुवार को ससम्मान उनके घरों तक पहुंचाया गया। मरकज़ से लौटे लोगों की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी सभी लोगों ने सहर्ष 14 दिनों का क्वारंटीन समय कम्प्लीट किया है। सीओ टाण्डा ने अपील किया है कि कोई भी अगर बाहर से आया हो तो प्रशासन को अवश्य सूचित करें।
कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए शासन के निर्देश पर प्रशासन काफी सजग व सतर्क नज़र आ रहा है। लॉक डाउन के प्रथम चरण के दौरान विभिन्न स्थानों सहित दिल्ली के मरकज़ से लौटे लोगों को भी 14 दिनों का क्वारंटीन समय पूरा होने पर ससम्मान उनके घरों तक भेजा जा रहा है। टाण्डा-अकबरपुर मार्ग स्थित महामाया मेडिकल कॉलेज में बने क्वारंटीन सेंटर से गुरुवार को अलनपुर, महेशपुर, अमीनपुर के उन 14 लोगों को भी प्रशासन से ससम्मान उनके घरों तक पहुंचाया जो गत पखवाड़े दिल्ली के मरकज़ से वापस लौटे थे। आपको बताते चलेंकि अलनपुर, अमीनपुर व महेशपुर के 14 लोगों को गत 02 अप्रैल को उप जिलाधिकारी अभिषेक पाठक व सीओ अमर बहादुर के नेतृत्व महामाया मेडिकल कालेज में क्वारंटीन किया गया जहां से सभी की कोविड-19 की जांच भी भेजी गई थी लेकिन सभी की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई थी लेकिन फिर भी सभी लोगों ने 14 दिनों का क्वारंटीन समय पूरा किया और इस दौरान किसी भी स्टॉफ को इनसे कोई शिकायत भी नहीं मिली। क्वारंटीन से लौटे लोगों ने मेडिकल कालेज के स्टॉफ सहित स्थानीय प्रशासन की भी सराहना किया है। सीओ अमर बहादुर ने सभी क्षेत्र वासियों से अपील किया कि अगर कोई भी बाहर से आया हो तो कृपया अपना मेडिकल चेकअप करा लें। श्री बहादुर ने कहा कि छिपाने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी।