भुखमरी की कगार पर पहुँचे दर्जनों परिवारों ने मानवाधिकार कार्यकर्ता के सहारे डीएम से लगाई मदद की गोहार

Sharing Is Caring:
सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: लॉक डाउन के दौरान गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने एवं भिक्षा मांगने वालों के सामने भुखमरी की समस्या पैदा होने लगी है। मानवाधिकार कार्यकर्ता मनोज कुमार सिंह की पहल पर दर्जनों परिवारों को जिलाधिकारी के निर्देश पर राहत सामग्रियों को पहुंचाने एवं चिन्हित करने का काम तेज़ हो चुका है।
शाहपुर मनियारी पट्टी पोस्ट असगवां तहसील भीटी के मुसहर समुदाय के अत्यंत गरीब परिवार के लोगों ने मानवाधिकार कार्यकर्ता मनोज कुमार सिंह के माध्यम से ज़िलाधिकारी को लिखित पत्र भेज कर बताया कि लॉक डाउन होने के कारण पूरा समुदाय भुखमरी की कगार लार पहुंच गया है। जिलाधिकारी राकेश कुमा मिश्र के निर्दर्श पर भीटी उप जिलाधिकारी तत्काल उक्त गनब में पहुंच कर परिवारों से भेंट करते हुए उनके राशन की व्यवस्था करवाया। इसी दौरान अकबरपुर के ग्राम संबरसा पोस्ट सिकंदरपुर के दर्जनों अत्यन्त गरीब परिवारों ने मानवाधिकार कार्यकर्ता मनोज कुमार सिंह के माध्यम से जिलाधिकारी को लिखित पत्र भेज कर बताया कि इन सब का परिवार मज़दूरी व भिक्षा पर आधारित है और लॉक डाउन के कारण सभी भखमरी की कगार पर आ चुके हैं जिसके बाद जिलाधिकारी ने तत्काल टीम गठित कर ऐसे सभी परिवारों तक राहत सामग्री पहुंचाने का निर्देश दिया।
बहरहाल बाल श्रम व बंधुआ मज़दूरों के लिए विशेष रूप से कार्य कर रहे मानवाधिकार कार्यकर्ता मनोज कुमार की पहल पर प्रशासन ने ऐसे परिवारों को राहत पहुंचाने का काम शुरू कर दिया है।

Related Posts

बकरीद पर्व को लेकर कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई सेंट्रेल पीस कमेटी की बैठक

ठेकेदार द्वारा वर्षों पुराने हरे पेड़ को उखाड़ फेंकने से समाजसेवियों में आक्रोश

टांडा तहसील सभागार में सम्पन्न हुई पीस कमेटी की बैठक

error: Content is protected !!