सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: घर चलने की मची होड़ में शासन के प्लान-बी के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कमर कस लिया है और सम्भावित संक्रमित व्यक्ति की स्कैनिंग के लिए 24 घंटे की ड्यूटी लगा दिया है तथा सभी स्कैन हुए लोगों की पूरी डिटेल शासन प्रशासन को भेजना शुरू कर दिया है।
कोरोना वायरस (कोविड-19) की शुरू हुआ विश्व स्तरीय महाजंग में शासन प्रशासन व सामाजिक कार्यकर्ताओं सहित प्रत्येक नागरिक भी अपनी-अपनी सराहनीय भूमिका निभा रहे हैं लेकिन इन सब में खतरनाक वायरस के सबसे करीब से होकर चिकित्सकों को गुजरना पड़ता है। तमाम संसाधनों की कमी से पहले ही जूझ रहा स्वास्थ्य विभाग बिना किसी तैयारी के अचानक आई महामारी की इस बड़ी जंग में खड़ा हो गया। पूरे देश को लॉक डाउन कर जहां एक-एक घरों में कोरोना के संभावित मरीजों की स्केनिंग की जा रही थी वहीं तीन दिन बाद ही अचानक अपने-अपने घरों पर जाने की होड़ सी लग गई और इस बीच खतरनाक वायरस सुरक्षा चक्रों को तोड़ने में लग गए लेकिन इसके लिए जहां शासन के निर्देश पर प्रशासन व पुलिस टीम “प्लान बी” के लिए तैयार हुई तो इन संभावित खतरनाक वायरस को सबसे नजदीक से चिकित्सकों को ही निपटना पड़ रहा है।
प्लान-बी के तहत जिलाधिकारी के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग ने जनपद में प्रवेश करने वालों की स्केनिंग शुरू कर दिया है। जनपद के विभिन्न क्षेत्रों सहित टाण्डा नगर के बस स्टेशन पर लगी टीम 24 घंटे लगातार आने वालों की स्केनिंग कर रही है।

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now