आगामी 27 फरवरी को तहसील मुख्यालय पर धरना प्रदर्श करेंगे तथा आगामी 14 मार्च से क्रांति रथ यात्रा के माध्यम से पूरे जनपद में जागरूकता अभियान

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर जनपद से पूर्वांचल राज्य बनाने की मांग एक बार फिर तेज़ हो गई है। पूर्वांचल मुक्ति मोर्चा ने प्रेस कांफ्रेंस कर क्रांति रथ निकालने का एलान किया है।
उत्तर प्रदेश ले 25 जनपदों को अलग कर पूर्वांचल बनाने के लिए विगत 24 वर्षों से संघर्ष कर रहे पूर्वांचल मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष विक्रम सावंत ने बुधवार को टाण्डा नगर के एक होटल में प्रेस कांफ्रेंस करते हुए बताया कि आगामी 27 फरवरी को तहसील मुख्यालय पर धरना प्रदर्श करेंगे तथा आगामी 14 मार्च से क्रांति रथ यात्रा के माध्यम से पूरे जनपद में जागरूकता अभियान चलाएंगे। श्री सावंत ने बताया कि उत्तर प्रदेश मुख्यालय लखनऊ से जनपदों की दूरी अधिक होने के कारण सभी जनपदों का औद्योगिक, तकनीकी, शैक्षिक, सामाजिक व भौगोलिक विकास नहीं हो पा रहा है तथा प्रदेश की 25 करोड़ आबादी को प्रदेश मुख्यालय पहुंचने में काफी दिक्कत होती है इसलिए उत्तर प्रदेश के 25 जनपदों को अलग कर के पूर्वांचल प्रदेश बन सकता है जिसका प्रदेश मुख्यालय अम्बेडकर नगर जनपद के आलापुर तहसील में स्थित नेवरी को बनाने पर सभी जनपदों का समुचित विकास सम्भव है क्योंकि नेवरी से मात्र 50 किमी की दूरी पर सभी जिला होंगे। उन्होंने दावा किया कि प्रदेश मुख्यालय के लिए 27 सौ एकड़ भूमि की आवश्यकता है। उन्होंने दावा कोय कि गोरखपुर में मात्र 17 सौ एकड़ व खेतासराय में मात्र 13 सौ एकड़ ही भूमि है जबकि अम्बेडकर नगर के नेवरी में 31 सौ एकड़ भूमि मौजूद ह और नेवरी सभी जनपदों के मध्य भी है जहां से लखनऊ, नेपाल, बिहार व मध्यप्रदेश भी पहुंचना आसान हॉग। आपको बताते चलेंकि पूर्वांचल राज्य बनाने की मांग श्री सावंत ने पूर्वांचल मुक्ति मोर्चा के बैनर पर जनवरी 1996 में जिला मुख्यालय ओर पहला डरना प्रदर्शन किया था तथा लगातार राष्ट्रपति, राज्यपाल, प्रधानमंत्री कार्यालय सहित अन्य विभागों को पत्रों के माध्यम से पूर्वांचल राज्य बनाने की मांग करते चले आ रहे हैं। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान राष्ट्रीय प्रवक्ता जगदम्बा प्रसाद श्रीवास्तव, राष्ट्रीय कार्यकरणी सदस्य श्रीकांत श्रीवास्तव व मीडिया प्रभारी दिनेश सिंह मौजूद रहे।

( पूर्वांचल प्रदेश को बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, गोंडा बस्ती, महाराजगंज, संत कबीर नगर, गोरखपुर, पडरौना, देवरिया अम्बेडकरनगर, अयोध्या, सुल्तानपुर, आजमगढ़, मऊ बलिया, प्रतापगढ़, जौनपुर, गाजीपुर, वाराणसी, भदोही इलाहाबाद, कौशांबी, चंदौली, सोनभद्र ज़िला मिला कर बनाने की मांग )

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now