पतंग उड़ाने के चक्कर में गई मासूम की जान-एक रेफर

Sharing Is Caring:
सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर:पतंग उड़ाने के चक्कर मे एक मासूम की जल कर मौत हो गया जबकि दूसरा मासूम ज़िन्दगी व मौत के बीच जिला अस्पताल में जमग लड़ रहा है। जी हाँ, रविवार की छुट्टी और पतंग उड़ाने का शौक दो मासूमों पर कहर बन कर टूट पड़ा। पतंग की डोर हाई वोल्टेज तार की चपेट में आने से एक मासूम जिंदा जल गया जबकि दूसरे की हालत नाजुक बनी हुई है, बिजली का कहर मासूमों पर इस कदर गिरा कि जमीन में भी दरारें पड़ गयी, दोनों मासूम पक्के दोस्त बताए जा रहे हैं और एक ही गांव के रहने वाले हैं।
मामला टाण्डा विकास खण्ड के ग्राम मधवा पुर का है ,बताया जा रहा है कि उक्त गांव के ही दो मासूम बच्चे अविनाश उम्र 10 वर्ष और आगम उम्र 9 वर्ष रविवार की छुट्टी में गांव के बाहर पतंग उड़ा रहे थे कि इनके पतंग की डोर पास ही गुजरे दो लाख 20 हजार वाल्ट विजली के तार से टकरा गई ,प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक तार से डोर टकराते हुए एक तेज धमाका हुआ और दोनों बच्चे जलने लगे ,नीचे जमीन में भी दरार पड़ गयी,घटना स्थल पर अब भी मासूम अविनाश के कपड़े और चप्पल जले हालात में पड़े हैं जो उन मासूमों पर गुजरे दर्द को बयां कर रहे हैं।
घटना स्थल पर पहुँचे ग्रामीणों ने दोनों को आनन फानन में जिला अस्पताल पहुँचाया जहाँ से अविनाश को डॉक्टरों ने लखनऊ रिफर कर दिया लेकिन रास्ते मे ही उसकी मौत गयी जबकि आगम की हालत नाजुक बनी हुई है, दोनों ही बच्चे गांव के ही प्राथमिक विद्यालय में पढ़ाई करते थे और दोस्त भी थे , विद्यालय के हेड मास्टर फैजुल नूर का कहना है कि पतंग उड़ाते समय उसकी डोर हाई वोल्टेज तार को छू गया और विजली की चपेट में आने से अविनाश की मौत हो गयी जबकि आगम की हालत गंभीर है ।

Related Posts

बकरीद पर्व को लेकर कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई सेंट्रेल पीस कमेटी की बैठक

ठेकेदार द्वारा वर्षों पुराने हरे पेड़ को उखाड़ फेंकने से समाजसेवियों में आक्रोश

टांडा तहसील सभागार में सम्पन्न हुई पीस कमेटी की बैठक

error: Content is protected !!