सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर:शासन के निर्देश पर नगर पालिका परिषद द्वारा चलाई जा रही कम्युनिटी किचन व भोजन वितरण व्यवस्था को लेकर नगर पालिका प्रशसन व सभासदों में जमकर खींचातानी चल रही है। शनिवार को नगर पालिका परिसर में पहुंचे दर्जनों सभसदों / प्रतिनिधियों व अधिशाषी अधिकारी के बीच जमकर नोकझोंक हुई थी जिसके बाद ईओ मनोज कुमार सिंह ने टांडा कोतवाली पुलिस को तहरीर देते हुए दो सभासदों, दो प्रतिनिधियों व अन्य के खिलाफ कार्यवाही की मांग किया था। रविवार को लगभग डेढ़ दर्जन सभसदों ने भो ईओ के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए टांडा कोतवाली व मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर कार्यवाही की मांग किया है।
सभासदों ने ईओ पर सामुदायिक रसोईया व भोजन पैकेट वितरण में धांधली का आरोप लगाते हुए सभसदों के माध्यम से भोजन पैकेट वितरण कराने की मांग किया है। आरोप है कि नगर पालिका परिसर में निराश्रितों व दिहाड़ी मज़दूरों को बुला कर लॉक डाउन व शारीरिक दूरी का भी पालन सुनिश्चित नहीं हो रहा है। आरोप है कि बीते 07 अप्रैल को पालिका अध्यक्ष रेहाना अंसारी व अधिशाषी अधिकारी मनोज कुमार सिंह की मौजूदगी में नगर के 25 वार्डों के निर्वाचित सदस्यों की बैठक में तय किया गया कि नगर क्षत्र क 25 बाडों में वार्ड सदस्यों के माध्यम से भोजन वितरण सूची के अनुसार किया जायेगा लेकिन इसी बीच चेयरमैन का स्वास्थ्य लहराब हो गया और उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया जिसका लाभ उठा कर ईओ अपनी मनमानी कर रहे हैं तथा पूर्व में तय सभासदों को भोजन की पैकेट उपलब्ध नहीं कररहे हैं जिसके सम्बन्ध में जब सभासद नगर पालिका परिसर पहुंचे तो ईओ ने सभसदों के साथ बदसलूकी किया और फ़र्ज़ी मुकदमा में फंसने की धमकी देते हुए कोतवाली पुलिस को तहरीर तक दे दिया। दूसरी तरफ ईओ श्री सिंह का कहना है कि सभासदों को 50-50 पैकेट देने के लिए नगर पालिका प्रशासन तैयार है लेकिन कई सभासद सैकड़ों पैकेट भोजन लेकर पूरे वार्ड में बाँटना चाहते है जबकि ये भोजन दिहाड़ी मज़दूरों, असहायों, निराश्रितों के लिए ही है।
बहरहाल नगर पालिका परिषद टांडा द्वारा चलाई जा रही सामुदायिक रसोईया प्रारम्भ से ही विवादों के घेरे में चल रही है जिसका खामियाजा गरीब, असहाय, निराश्रितों को भुगतना पड़ रहा है।