सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: पवित्र माह रमज़ान के दौरान आम दिनों में बाज़ारों में काफी रौनक होती है लेकिन कोविड-19 के कारण जारी लॉक डाउन में बिना आवश्यकता के घरों से निकलने पर पाबंदी लगाई गई है। रोजदारों को असुविधा ना हो इसके लिए स्थानीय प्रशासन ने सोशल डिस्टेंडिंग बनाते हुए आवश्यक सामानों को खरीदने की इजाज़त दी है। प्रसिद्ध मदरसा मंज़रे हक के प्रबंधक हाजी आशफाक अहमद अंसारी ने विशेष अपील करते हुए कहा कि बिना आवश्यकता के घरों से कदापि ना निकलें और अगर जरूरत का सामान लेना हो तो दुकानों पर सोशल डिस्टेंडिंग को फॉलो करते हुए ही सामान खरीदें। दुकानों व सड़कों पर भीड़ बिल्कुल ना लगाएं।

उक्त बातों को दोहराते हुए प्रसिद्ध मदरसा कंजुल उलूम के प्रबंधक तुफैल अख्तर ने भी अपील किया कि रमज़ान के महीने में रोजा रखें और घरों पर इबादत कर दुआएं मांगे। गलियों, सड़कों पर भीड़ बिल्कुल भी ना लगाएं और इफ्तार का सामान सभी लोग एक साथ शाम को ही ना खरीदें बल्कि पूरे दिन में बारी बारी से सामान खरीदते रहें जिससे एक स्थान पर भीड़ ना जमा होने पाए।
धार्मिक संस्था आदरे सरैय्या के मौलाना फैय्याजुद्दीन ने भी मुस्लिम समुदाय से विशेष अपील किया है कि इफ्तार का सामान लेने के बहाने सड़कों गलियों व दुकानों पर भीड़ ना जमा करें बल्कि सोशल डिस्टेंडिंग को अपनाते हुए बारी-बारी से सामान खरीदें और अनावश्यक सड़को पर खड़े होकर एक दूसरे से बातें बिल्कुल भी न करें।
आपको बताते चलेंकि स्थानीय प्रशासन ने पवित्र माह रमज़ान शुरू होने से पूर्व ही संभ्रांत नागरिकों के साथ बैठक कर अपील किया था कि भीड़ कदापि ना जमा होने दें और लॉक डाउन के दौरान सोशल डिस्टेंडिंग का पूरा खयाल रखें।

टाण्डा तहसील प्रांगण में रोजदारों के लिए इफ्तार का होता है शानदार इन्तेजाम

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now