सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

बलिया (नवल जी) बात अगर शासन से लेकर प्रशासन की लापरवाही का करे तो इसमें कोई दो राय नही की आये दिन लोग किसी न किसी घटना का शिकार होते है और अपनी जान गंवा बैठते है। हम आप को जो तस्वीरे दिखा रहे उसे देख आप के रोंगटे खड़े हो जाएंगे और आप कभी सायद यहा आना तब जरूरी समझे जब आप की मजबूरी हो। जी हां ये तस्वीर शहर के शहीद पार्क चौक से हो कर हनुमान गढ़ी मंदिर के तरफ जाने वाले मुख्य मार्ग का है, जिसे सिनेमा रोड के नाम से जाना जाता है। इस मार्ग पर लगे इस बिजली के पोल को आप ध्यान से देखे। यह बिजली का पोल काफी हद तक इतना टेढ़ा हो चुका है कि मानो अभी गिर जाएगा और न जाने कितनों की आंखे उसी वक्त बन्द कर देगा। इस बिजली पोल के माध्यम से सम्बन्धित विभाग लोगो के घरों और दुकानों तक बिजली सप्लाई देती है जिस पर हाई बोल्टेज तारे लगाई गई है। इस पोल के नीचे फुटपाथ पर दुकान लगा कर जीवन यापन करने वाले दुकान दार आये दिन अपनी दुकानें लगते और दर्जनों लोग इसी पोल के नीचे खड़े होकर समान खरीदते है। आप को बताते चले कि सिनेमा रोड मार्ग की इस सड़क पर प्रशासन और शासन के लोग आये दिन गुजरते है पर किसी की नजर अब तक इस पोल पर क्यों नही पड़ी ये अपने आप मे चौकाने वाली बात है। शाहिद चौक में इस पोल से गुजरने वाली हाई बोल्टेज तारो का मुख्य स्टेशन भी मौजूद है जहा से ये तारे दौड़ाई गयी है। आये दिन बंदरो का आतंक भी इस बिजली पोल से होकर घरों और दुकानों तक जाने वाली बिजली सप्लाई के तारो पर भी देखा जा सकता है जो बड़ी दुर्घटना को दावत देता है। इस मार्ग से प्रतिदिन हजरों लोगो का आवागमन है और सैकड़ो छोटी बड़ी गाड़ियां भी गुजरती है ऐसे में अगर यह बिजली पोल बिजली सप्लाई के दौरान गिरा तो न जाने के मासूम लोग अपनी जान गंवा सकते है। हद तो तब हो जाती है कि इस पोल के अपने इस स्थान पर इस प्रकार से घटनात्म अंदाज में लगभग खड़े एक वर्ष हो गए बावजूद सम्बन्धित विभाग ने अब तक इस बिजली पोल को बदलना तक मुनासिफ नही समझा। सायद बिजली विभाग किसी बड़ी घटना का इन्तेजार कर रहा है कि कब कोई बड़ी घटना हो और लोग अपनी जान गंवा बैठे ताकि यह पोल बदला जा सके। हम ऐसा इस लिए कह रहे है क्यों की अक्सर ये देखने मे आता है कि किसी बड़ी घटना के बाद ही सम्बन्धित विभाग को अपनी गलती सुधारने में लग जाती है।

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now