रिपोर्ट: तौफ़ीक़ खान बस्ती

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

देश के बजट पर उत्तर प्रदेश सरकार के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने अपनी प्रतिक्रिया दी, उन्होंने वित्त मंत्री के बजट का स्वागत करते हुए कहा की बजट में देश के हर नागरिक की चिंता की गई है, ग्रामीण विकास और इंफ्रास्ट्रक्चर पर बल दिया गया है, कृषि क्षेत्र की समस्याओं के निराकरण के लिए 15 लाख करोड़ केसीसी के माध्यम से किसानों को आवंटित करने का लक्ष्य रखा गया है, इस से कृषि क्षेत्र की बेहतरी होगी, कृषि में टेक्नॉल्जी का इस्तेमाल बढेगा, उत्पादन के भण्डारण के लिए बजट में ठोस कदम उठाए गए हैं, पिछले 70 सालों से भण्डारण की समस्या देश में रही है, उस समस्या के समाधान के लिए मोदी सरकार ने बजट में प्राथमिकता पर रखा है, हर तहसील और व्लाक स्तर तक भण्डारण की व्यवस्था की जाएगी, ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं के द्वारा चलाए जा रहे स्वंय सहायता समूहों को छोटे भण्डारड़ केन्द्र बना कर उन की गतिविधायों को बढ़ाने के लिए बजट में प्रावधान रखा गया है, मनरेगा को पशुपालन के साथ जोड़ने से दूध का उत्पादन बढ़ेगा, जिससे देश की इकॉनमी को गति मिलेगी, मंत्री ने कहा की मोदी सरकार में किसानों की हालत बेहतर हुई है, मनमोहन के 10 साल के कर्यकाल में 6 लाख से ज्यादा किसानों ने आत्महत्या की, मोदी जी 5 साल के कार्यकाल में जो आंकड़ा आया उस में किसानों की आत्महत्या घटी है, मोदी सरकार के 5 साल के कार्यकाल में 10.5 हजार किसानों ने आत्महत्या की, इस का मतलब है की मोदी सरकार के कार्यक्रमों का सीधा फायदा किसानों तक पहुंचा है, कुसुम योजना के अंतर्गत देश के 20 लाख किसानों को सोलर पम्प से जोड़ने की व्यवस्था की जा रही है, ये किसानों की आमदनी बढ़ाए जाने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम है।