सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: कोविड-19 की महामारी से बचाव के लिए विगत 45 दिनों से चल रहे लॉक डाउन में काफी संख्या में लोग प्रदेश व गैर प्रदेशों में फंसे हुए हैं जिन्हें अपने गृह जनपदों में भेजने के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार लगातार प्रयास कर रही है। शासन ने सरकारी वाहनों के अतिरिक्त ब प्राइवेट वाहनों से अपने जनपदों में जाने की इजाजत दे दिया है लेकिन इसके लिए कुछ नियमों का पालन करना आवश्यक है।
गैर-जनपद में फंसे लोग अगर अपने गृह जनपद जाना चाहते हैं तो सर्वप्रथम सरकारी अस्पतालों में अपना स्वास्थ परीक्षण कराकर प्रमाण पत्र प्राप्त कर लें और उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल अथवा गूगल पर UPPASS सर्च कर फार्म भर दें तथा प्राइवेट गाड़ी का नम्बर, ड्राइवर का पहचान पत्र, अपना पहचान पत्र स्थानीय कलेक्ट्रेट कार्यालय में जमा कर दें।
आपको बताते चलेंकि टाण्डा तहसील व बसखारी थानाक्षेत्र में स्थित विश्व प्रसिद्ध दरगाह किछौछा में लॉक डाउन के दौरान लगभग आठ से दस हज़ार जायरीनों कर फंसे होने की बात सामने आई थी जिसके लिए नगर पंचायत अशरफपुर किछौछा, टाण्डा तहसील प्रशासन व मखदूम अशरफ दरगाह इंतेजामिया कमेटी, पीरजादगान इंतेजामिया कमेटी, ऑल इंडिया बज़्मे अशरफ, स्प्रिचुअल फाउंडेशन, डॉक्टर एसएम अली मेमोरियल, एआईएमआईएम, पयामे हक आदि द्वारा बिना भेदभाव के भोजन की व्यवस्था की जा रही थी लेकिन शासन द्वारा सरकारी साधनों के अतिरिक्त अब प्राइवेट वाहनों से भी अपने गृह जनपद जा आसक्ति हैं। ऑनलाइन पंजीयनकारण करने के लिए सूचना न्यूज़ के नीचे इम्पोर्टेन्ट लिंक (आवश्यक लिंक) में स्क्रॉल पर चल रहे ‘जन सुनवाई/शिकायत उत्तर प्रदेश सरकार’ को टच कर फार्म भर सकते हैं अथवा गूगल पर UPPASS सर्च कर भी फार्म भर सकते हैं तथा ऑनलाइन फार्म का क्रमांक, स्वास्थ प्रमाण पत्र की कॉपी व वाहन का नम्बर आदि कलेक्ट्रेट में स्थित एडीएम कार्यालय में जमा करना होगा।

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now