सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: टाण्डा नगर क्षेत्र के छज्जापुर निवासी इसराइल के 22 वर्षीय पुत्र रिजवान की मृत्यु के मामले में बसपा के राष्ट्रीय महासचिव व सपा के जिला महासचिव ने मजिस्ट्रेटी जांच कर आरोपियों को दंडित करने तथा पीड़ित परिजन को आर्थिक सहयोग देने की मांग उठाया है हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी आ गई है जिससे ये भी स्पष्ट हो रहा है कि मृतक बीमार चल रहा था। 

बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व अकबरपुर विधायक राम अचल राजभर व समाजवादी पार्टी के जिला महासचिव मुजीब अहमद सोनू ने रिजवान अहमद पुत्र इसराइल निवासी छज्जापुर की मृत्यु के मामले में मजिस्ट्रेटी जांच की मांग करते हुए पीड़ित परिवार को 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता की मांग किया है। विधायक श्री राजभर के अकबरपुर प्रतिनिधि व सामाजिक कार्यकर्ता बल मुकुंद धुरिया ने श्री राजभर की मानवों की पुष्टि करते हुए कहा कि कुछ दिन पूर्व बेवाना थाना में भी इसी तरहएक व्यापारी को पुलिस ने बेदर्दी से पिटाई किया था और रिजवान अहमद के परिजन भी पुलिस की पिटाई से घायल होने की बात कर रहे हैं इसलिए इस प्रकरण की मजिस्ट्रेटी जाच होनी चाहिए। सपा नेता मुजीब अहमद सोनू ने कहा कि मजिस्ट्रेटी जांच से स्पष्ट हो जाएगा कि रिजवान की मौत के पीछे पुलिस का हाथ है या किसी साजिश के तहत मामले को तूल दिया गया था।
प्राप्त जानकारी के अनुसार रिजवान की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में स्पष्ट हुआ कि मृत्यु से पहले रिजवान के पैर में चोट के कारण इंफेक्शन हो गया था तथा दिल के चारों तरफ व फेफड़े में पानी जमा हुआ था हालांकि पीएम रिपोर्ट में चोट लगने का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। परिजनों का आरोप है कि चोट पुलिस की मार से आई है जबकि उनके पारिवारीम चिकित्सक का कहना है कि उनको बाइक से गिरने के कारण चोट लगने की बात बताई गई थी।
बहरहाल रिजवान अहमद की मौत के बाद सोशल मीडिया पर कई लोग खुल पुलिस को रिजवान की मौत का जिम्मेदार मान रहे हैं जबकि कई लोग इसके पीछे के रहस्य को खोजने में भी जुटे हुए हैं।

अचानक हुई बरसात व ओलावृष्टि में गिरी बिजली की चओएत में आने से दो महिलाओं की मौत

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now