सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: सरकार द्वारा बैंक खातों में पैसा ट्रांसफर किए जाने के बाद से लगभग सभी बैंक की शाखाएं गुलज़ार हो गई हैं जिसके कारण बैंक कर्मियों सहित प्रशासनिक अधिकारियों व पुलिस टीमों को भी उपभोक्ताओं से सोशल डिस्टेंडिंग का पालन कराना टेढ़ी खीर साबित हो रहा है और उपभोक्ताओं की आस लापरवाही से कोविड-19 की महामारी को जीवनदान मिल सकता है।
जिला मुख्यालय के पहितीपुर में संचालित बड़ौदा उत्तर प्रदेश ग्रामीण बैंक की शाखा का नज़ारा देख कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाईया लड़ने वालों का होश उड़ जाएगा। शासन ने लॉक डाउन के दौरान आवश्यक कार्यों में भी सोशल डिस्टेंडिंग अर्थात एक दूसरे से कम से कम एक मीटर की दूरी बनाए रखने का सख्त आदेश दिया है लेकिन बैंक शाखाओं में उमड़ रही भीड़ बैंक कर्मियों के ही लोए नहीँ बल्कि प्रशासनिक अधिकारियों व पुलिस टीमों के लिए बड़ी मुसीबत बन चुका है। ऐसे ही कुछ नज़ारा कार्पोरेशन बैंक की शाखा टाण्डा में भी नज़र आया जहां सोशल डिस्टेंटिंग मात्र एक नारा बन कर रह गया है।बैंकों से शीघ्र अतिशीघ सरकार द्वारा भेजी गई आर्थिक सहायता को निकालने की होड़ मच चुकी है और अधिकांश लोग सोशल डिस्टेंटिंग का जमकर माखौल उड़ा रहे हैं जबकि हम सब के सामने कोविड-19 जैसी गम्भीर महामारी मुंह खोले खड़े है। बैंक शाखाओं के अंदर तो नज़ारा देख रहता है लेकिन मुख्य द्वारा पर लगी भीड़ विश्व स्तरीय गंभीर महामारी को जनपद में जीवनदान दे सकती है। बैंकों से 1000 व 500 रुपय निकालने की मची होड़ में सोशल डिस्टेंडिंग का पालन ना होने के कारण गम्भीर महामारी अपना विकराल रूप धारण कर सकती है जिसका खामियाजा हम सभी को भुगतना पड़ सकता है।

पीएम मोदी के आह्वान पर बीती रात्रि नज़र आया दीपावली सा नज़ारा – देखने के लिए इसे टच करें।

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now