अम्बेडकरनगर: समाजवादी पार्टी के युवा फ्रंटल संगठनों ने जिला मुख्यालय पर जबरदस्त प्रदर्शन कर जिलाध्यकारी के माध्यम से राज्यपाल को छः सूत्रीय ज्ञापन भेजकर मौजूदा सरकार पर गलत नीतियों का आरोप लगाया। प्रदर्शन में युवाओं की बेरोजगारी, किसानों की समस्याओं, छात्रों व शिक्षकों की समस्याओं व सार्वजनिक क्षेत्रों का निजीकरण करने के खिलाफ आवाज़ बुलंद की गई।समाजवादी पार्टी के जिला कार्यालय से जिलाध्यक्ष रामसकल यादव ने युवाओं के हुजूम को कलेक्ट्रेट के लिए पार्टी का झण्डा दिखाकर रवाना किया।युवजन सभा के जिलाध्यक्ष प्रद्युम्न यादव बबलू, यूथ ब्रिगेड के पूर्व जिलाध्यक्ष मोहम्मद सईम, छात्र सभा के पूर्व जिलाध्यक्ष जंगबहादुर यादव ने संयुक्त रूप से युवा सपाइयों की भीड़ का नेतृत्व किया। उक्त अवसर पर जिला महासचिव मुजेरब अहमद सोनू, डॉक्टर अभिषेक सिंह, महेंद्र यादव, अंकुश वर्मा, हेमन्त यादव, अनवर सादात अन्सारी मुन्ना, हरिकेश यादव, रवि गुप्ता, सुरेंद्र निषाद, लक्ष्मीकांत कश्यप, राजन कन्नौजिया, अखिलेश मौर्य आदि मौजूद रहे। सपाइयों ने मौजूदा भाजपा सरकार पर गलत व दोहरी नीति का आरोप लगाते हुए कहा कि बेरोजगारी चरम पर पहुंच चुकी है और सरकार सार्वजनिक क्षेत्रों का निजीकरण करने में जुटा हुआ है जिससे पूंजीवाद मज़बूत होगा और आम नागरिकों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा।
बहरहाल समाजवादी पार्टी के युवा फ्रंटल संगठनों ने संयुक्त रूप से जिला मुख्यालय लार जबरदस्त प्रदर्शन कर महामहिम राज्यपाल को छ: सूत्रीय ज्ञापन भेजा कर सरकार पर के गंभीर सवाल खड़े किए हैं।