सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व मंडलायुक्त के सख़्त निर्देश तथा जिलाधिकारी के सख्त आदेश के बाद भी जनपद में कन्या सुमंगला योजना के नाम पर अभिभावकों को गुमराह कर जमकर अवैध धन की वसूली की जा रही है। ताज़ा मामला इब्राहिमपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत उतरथु बाजार में मौर्य ऑनलाइन इंटरप्राइजेज साइबर कैफे के नाम पर जन सेवा केंद्र का प्रकाश में आया है जहां पर बच्चों के आवेदन के नाम पर ढाई सौ रुपए प्रति बच्चों के नाम पर धन उगाही किया जा रहा है। कन्या सुमंगल योजना के अंतर्गत बेसिक शिक्षा अनुसार कक्षा एक कक्षा 6 कक्षा 9 इंटर व स्नातक के बच्चों के लिए कन्या सुमंगल योजना के तहत उन घरों के बच्चों को जिनके मात्र 2 बच्चे हो जिनमें एक बेटा एक बेटी हो उनके लिया सरकार के द्वारा मुख्यमंत्री कन्या सुमंगल योजना चलाया गया।
मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत बेटियों को उम्र की विभिन्न चरणों में जब जब आगे बढ़ने के लिए पैसो की जरूरत होती है। तब तब राज्य सरकार आर्थिक मदद प्रदान करेगी। इस तरह सरकार ने 6 चरण जन्म से लेकर उसकी शादी तक निश्चित किए गए हैं।
◆सबसे पहले बच्ची के जन्म के समय एक निश्चित राशि दी जाएगी।
◆टीकाकरण के समय आर्थिक मदद दी जाएगी।
◆पहली कक्षा में प्रवेश के समय आर्थिक मदद दी जाएगी।
◆छठवीं कक्षा में प्रवेश के समय आर्थिक मदद दी जाएगी।
◆नौवीं कक्षा में प्रवेश के समय आर्थिक मदद दी जाएगी।
◆स्नातक में प्रवेश के समय आर्थिक मदद दी जाएगी।
◆शादी के समय आर्थिक मदद दी जाएगी।
लेकिन मौर्य इंटरप्राइजेज साइबर कैफे के द्वारा कक्षा 1 से लेकर स्नातक तक के बच्चों का आवेदन किया जा रहा है। हर क्लास के बच्चों को गुमराह करके उक्त सेंटर के द्वारा ढाई सौ रुपए प्रति बच्चों का सुविधा शुल्क लेकर के आवेदन किया जा रहा है। मजे की बात तो यह है कि बच्चों को गुमराह करने वाला यह प्रिंटिंग प्रेस का मालिक जिनके परिवार में 4 से 6 बच्चियां और बच्चे हैं उनका भी आवेदन करने में नहीं चूक रहा है। यहां तो खूब जमकर सुमंगल योजना का फायदा उठाते हुए धन उगाही की जा रही है।
वही इस विषय पर जिला प्रोबेशन अधिकारी सुबोध कुमार से वार्ता करने पर उनके द्वारा बताया जाता है कि सुमंगल योजना के तहत गलत तरीके से आवेदन किया जा रहा है जिसकी शिकायत लगातार आ रही है। जल्द ही ऐसे जन सेवा केंद्र को चिन्हित कर कार्रवाई की जाएगी शिकायत मिलेगी तो जरूर कार्रवाई की जाएगी।
वही इस विषय पर जिलाधिकारी अंबेडकरनगर राकेश कुमार मिश्रा से वार्ता करने पर उनके द्वारा बताया जाता है कि मामला गंभीर है सुमंगल योजना के नाम पर बच्चों के साथ में धन उगाही के कार्य करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी।
मुख्यमंत्री कन्या सुमंगल योजना के अंतर्गत खूब जमकर धन उगाही का खेल खेला जा रहा है यही एक जन सेवा केंद्र नहीं तमाम ऐसे जन सेवा केंद्र है जहां पर बच्चों को गुमराह करके धन उगाही का कार्य किया जा रहा है जिससे जिलाधिकारी व कमिश्नर क्या मुख्यमंत्री के आदेश की भी जमकर खिल्लियां उड़ाई जा रही है।

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now