सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: संयुक्त जिला अस्पताल में बीती रात्रि एक संदिग्ध कोरोना मरीज की मौत होने से हड़कम्प मच गया हालांकि अभी तक उसकी जांच रिपोर्ट नहीं आई है तथा चिकित्सकों का दावा है कि वो हार्ट मरीज था जबकि परिजनों ने जांच रिपोर्ट ना आने तक शव लेने से इनकार कर दिया है। घटना के बाद से स्वास्थ्य विभाग एक दूसरे पर ठीकरा फोड़ने में जुटे हुए हैं जबकि परिजनों ने लापरवाही का आरोप लगाया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार सम्मनपुर क्षेत्र निवासी 26 वर्षीय अजय शर्मा प्रयागराज (इलाहाबाद) से गत 25 अप्रैल को जनपद में आया था जिसे 26 अप्रैल को जिला मुख्यालय के रामा बाई क्वारन्टीन सेंटर में ले जाया गया जहां उसका स्वास्थ्य खराब होने के कारण उसे उसी दिन जिला अस्पताल में रेफर कर दिया गया था जहां बीती रात्रि उसकी मौत हो गई है। संदिग्ध कोरोना मरीज की मृत्यु से हड़कम्प मच गया है और स्वास्थ्य विभाग कुछ भी बताने से कतराता नज़र आ रहा है हालांकि जिला अस्पताल के फिजिशियन डॉक्टर मनोज शुक्ला ने दावा किया कि मृतक बचपन से ही हार्ट पेशेंट था और उसे कल ही लखनऊ रेफर किया गया था लेकिन परिजनों ने कहा कि वो इलाज़ करा-करा कर थक गए हैं इसलिए उसे बाहर नहीं ले जाएंगे। सूत्रों के अनुसार अजय शर्मा के परिजनों ने फिलहाल शव को लेने से इनकार कर दिया है। परिजनों का कहना है कि जांच रिपोर्ट आने के बाद ही वो शव को लेंगे। जानकारी के अनुसार अजय के कोरोना वायरस की जांच के लिए सैम्पल भेजा गया है लेकिन अभी तक जांच रिपोर्ट नहीं आई है।
बहरहाल तीन दिन पूर्व ही प्रयागराज (इलाहाबाद) से आये युवा की जिला अस्पताल में हुई मौत को संदिग्ध कोरोना संक्रमण से जोड़ कर देखा जा रहा है और शायद इसी कारण परिजनों ने भी शव लेने से इनकार कर दिया है। फिलहाल जांच रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा कि मृत्यु से कोरोना वायरस का क्या सम्बन्ध था।

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now