वसीम रिजवी की विवादास्पद पुस्तक का इब्राहिम ने दिया पुस्तक लिखकर करारा जवाब – अजमेर में हुआ भव्य विवेचन

Sharing Is Caring:
सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

दिल्ली : महान सूफी संत हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती रह. की दरगाह अजमेर शरीफ में रविवार को “अजीम मोहम्मद” नामक पुस्तक का भव्य विमोचन किया गया । यह पुस्तक उत्तर प्रदेश के वसीम रिजवी जो आपने आपको जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी के नाम से मशहूर करता है उनके द्वारा लिखी विवादास्पद पुस्तक “मोहम्मद” के जवाब में लिखी गई है।


अंजुमन सैयदजादगान के सदर सैयद मोइन हुसैन चिश्ती, ऑल इंडिया सुन्नी जमीयत उलेमा के अध्यक्ष व साहिबे सज्जादा मखदूम अशरफ अल्लामा मौलाना सैयद मोइनुद्दीन अशरफ अशरफी जिलानी (मोइन मियां), अंजुमन सचिव सैयद वाहिद हुसैन अंगाराशाह तहफ्फुज ए नामूस रिसालत बोर्ड मुंबई के संस्थापक मौलाना सईद नूरी, काजी बोर्ड के अध्यक्ष मौलाना फजले हक अंजुमन सैयदजादगान के संयुक्त सचिव सैयद मुसब्बिर हुसैन चिश्ती, सदस्य सैयद आले बदर चिश्ती सहित विभिन्न गणमान्य लोग मौजूद थे जोहर की नमाज के बाद दरगाह की अहाता ए नूर में यह प्रोग्राम हुआ।
मौलाना सईद नूरी ने बताया कि इस पुस्तक को जामिया कादरिया अशरफिया मुंबई के मौलाना इब्राहिम आसी ने लिखा है। उन्होंने त्यागी द्वारा उठाएं सवालों का तध्यों और तर्कों के साथ जवाब दिया है। इस पुस्तक को तहफ्फुज ए नामूस रिसालत बोर्ड मुंबई में प्रकाशित किया है। उर्दू के अलावा हिंदी और अंग्रेजी में यह पुस्तक प्रकाशित की गई है । कार्यक्रम की शुरुआत कुरआन शरीफ की तिलावत से हुई सैयद फुजैल चिश्ती ने नात शरीफ का नजराना पेश किया। मोईन हुसैन ने दुआ की । सलातो सलाम पेश किया गया। बड़ी संख्या मे खुद्दाम और जायरीन मौजूद थे।
बहरहाल वसीम रिजवी की विवादस्पद किताब का मुम्बई के मौलाना इब्राहिम आसी ने तर्क के साथ करारा जवाब देते हुए किताब लिखा है जो ऐतिहासिक है। श्री इब्राहिम के सराहनीय प्रयास की खूब प्रशंसा हो रही है।

Related Posts

बकरीद पर्व को लेकर कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई सेंट्रेल पीस कमेटी की बैठक

ठेकेदार द्वारा वर्षों पुराने हरे पेड़ को उखाड़ फेंकने से समाजसेवियों में आक्रोश

टांडा तहसील सभागार में सम्पन्न हुई पीस कमेटी की बैठक

error: Content is protected !!