दुल्हन की तरह सज़ा नगर पंचायत भवन 24 घण्टा रहेगा खुला – अध्यक्ष स्वयं करेंगे मॉनिटरिंग

Sharing Is Caring:
सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: नगर पंचायत अशरफपुर किछौछा भवन को दुल्हन की तरह सजाया गया है। नगर पंचायत भवन को 24 घण्टा खोलने के साथ कर्मचारियों की शिफ्ट वार ड्यूटी लगाई गई है। नगर पंचायत अध्यक्ष स्वयं मॉनिटरिंग करेंगे। (नोट:खबर के अंत में (नीचे) बने स्टार को टच कर आप स्टार देकर अपनी पसंद बता सकते हैं-धन्यवाद)
आध्यात्मिक इलाज के लिए वशव विख्यात सूफ संत हज़रत सैय्यद मखदूम अशरफ जहांगीर सिमनानी की दरगाह किछौछा में 637वें उर्स मखदूम अशरफ की शुरुआत हो चुकी है। दरगाह इंतेजामिया कमेटी द्वारा जहां मुख्य आस्ताना को दुल्हन की तरह सजाया गया है वहीं नवनिर्वाचित नगर पंचायत अध्यक्ष ओमकार गुप्ता के निर्देश पर नगर पंचायत भवन को भी शानदार ढंग से सजाते हुए जायरीनों (श्रद्धालुओं) का भव्य स्वागत करने की तैयारी की गई है।

नगर पंचायत भवन को 24 घण्टा खोलने के साथ सफाई कर्मियों की ड्यूटी भी शिफ्टवार लगाई गई है। नगर पंचायत भवन को पहली बार स्वास्थ्य, बिजली, फायर व सुरक्षा का कैम्प बना दिया गया है जिसकी मॉनिटरिंग स्वयं नवनिर्वाचित अध्यक्ष ओमकार गुप्ता द्वारा की जा रही है। नगर पंचायत की तरफ से पहली बार जायरीनों के लिए जल प्यायु की व्यवस्था किया गया है जो 13 अगस्त से 16 अगस्त तक अनवरत जारी रहेगा और नगर पालिका के कर्मी जायरीनों को पानी पिलायेंगे।

नगर पालिका अध्यक्ष ओमकार गुप्ता ने बताया कि मेला परिक्षेत्र में विशेष साफ सफाई के लिए विभिन्न नगर पालिका व नगर पंचायतों से सफाई कर्मियों को बुलाया गया है और मुख्य आस्तना स्थल रुहाबाद में 75 सफाई कर्मी लगा दिया गया है जो परिक्षेत्र को प्रत्येक दशा में साफ सुथरा रखेंगे। श्रद्धालुओं के लिए 125 से अधिक अस्थाई नल लगवाया गया है तथा 10 मोबाइल शौचालय विभिन्न स्थानों पर लगवाये गए हैं। नगर पंचायत भवन को खोया पाया केंद्र के रूप में भी तब्दील किया गया है जहां से लाउडस्पीकर के माध्यम से देशभक्ति गीत के साथ आवश्यक सूचना प्रसारित करने का काम शुरू हो चुका है। श्री ओमकार ने बताया कि मेला परिक्षेत्र में अस्थाई बिजली की व्यवस्था देने के लिए 20 जनरेटर की व्यवस्था की गई है और एक मोबाइल ट्रांसफार्मर भी मंगवाया गया है। 637वें उर्स मेला के दृष्टिगत प्रत्येक प्वाइंट पर सीसीटीवी के माध्यम से नज़र रखी जा रही है तथा नगर पंचायत कर्मियों को आईडी कार्ड जारी किया जा रहा है जिससे भीड़भाड़ वालर स्थानों पर उनकी पहचान की जा सके। सुरक्षा के लिए महिला सिपाहियों को भी नागर पंचायत भवन में स्थान दिया गया है तथा आपात स्थिति के लिए फायर कर्मियों को भी एलर्ट पर रखा गया है।
बहरहाल 637वें उर्स मखदूम अशरफ व मेला को शानदार ढंग से सम्पन्न कराने के लिए नगर पंचायत अशरफपुर किछौछा ने पूरी ताकत झोंक दिया है जिसकी क्षेत्र में खूब सराहना अहो रही है।

Related Posts

बकरीद पर्व को लेकर कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई सेंट्रेल पीस कमेटी की बैठक

ठेकेदार द्वारा वर्षों पुराने हरे पेड़ को उखाड़ फेंकने से समाजसेवियों में आक्रोश

टांडा तहसील सभागार में सम्पन्न हुई पीस कमेटी की बैठक

Leave a comment

error: Content is protected !!