सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: सरकार बुनकारों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है तथा देश में CAA व NRC के खिलाफ ज़बरदस्त गुस्सा है जबकि शाहीन बाग ने आंदोलन को नई दिशा देने का काम किया है।
उक्त बातें वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता बाल मुकुंद धुरिया ने आज बुनकर नगरी टाण्डा के मोहल्लाह सकरावल में एक चौपाल के दौरान कही। श्री धुरिया नर कहा कि बुनकरों की बिजली सब्सिडी के मामले में उपेक्षा कर सरकार ने बुनकरों के साथ अपने सौतेले व्यवहार को पुख्ता कर दिया है। उन्होंने कहा कि टाण्डा बुनकरों का बड़ा हब है और टाण्डा ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश के बुनकरों के सामने बिजली सब्सिडी समाप्त करने के फैसले के बाद बड़ी समस्या पैदा हो गया है जिससे बुनकर समाज भुखमरी की कगार ओर पहुंच जाएगा और बनाई पेशा पर ग्रहण लग सकता है। सामाजिक कार्यकर्ता बल मुकुंद धुरिया आने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पूरे देश मे CAA व NRC को लेकर ज़बरदस्त आक्रोश है और शाहीन बाग में दो माह से अधिक समय से जारी प्रदर्शन ने आनदोलन को नई दिशा देने का काम किया है। उन्होंने कहा कि मौका आने पर जनता सबक अवश्य सिखाएगा। श्री धुरिया ने दावा किया कि जनता का सवाल हल न होने की दशा में जनता सड़कों पर उतरेगी। आपको बताते चलेंकि टाण्डा के बुनकरों द्वारा पूर्व में भी किए गए विभिन्न आंदोलनों को गति देने में श्री धुरिया का बड़ा हाथ रहा है।

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now