सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

सात वर्षीय कक्षा दो की मासूम छात्रा की विद्यालय में हुई मृत्यु से नाराज़ परिजनों सहित ग्रामीणों ने सद्दरपुर-केदारनागर मार्ग जाम कर हंगामा किया। मौके पर पहुंचे जिलाधिकारी के आश्वासन पर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा सका।
इब्राहिमपुर थाना क्षेत्र के सलाहुद्दीनपुर अमेदा में संचालित सरकारी प्राथमिक विद्यालय में लकड़ी की अलमारी के नीचे दब कर कक्षा दो की सात वर्षीय छात्रा पायल पुत्री राजकुमार निवासी सलाहुद्दीनपुर की मृत्यु होने का समाचार जंगल मे आग की तहर फैल गया।आक्रोशित परिजनों व ग्रामीणों ने प्रधानाध्यापक पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए सद्दरपुर-केदारनागर मार्ग (मेडिकल कालेज से इब्राहिमपुर थाना मार्ग) को जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। सूचनान पर तत्काल जिलाधिकारी राकेश कुमार व पुलिस कप्तान आलोक प्रियदर्शी भारी पुलिस व प्रशासनिक अमले के साथ पहुंच गए। डीएम व एसपी के अथक प्रयास के बाद परिजनों को समझा बुझा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। परिजनों का आरोप है कि घटना की सूचना विद्यालय के बच्चों के द्वारा मिली जबकि विद्यालय प्रशासन की तरफ से घटना की सूचना नहीं दी गई और ना ही एम्बुलेंस ही बुलाया गया था। घटना की सूचना पर विद्यालय में पहुंचे परिजनों ने छात्रा को आननफानन में जिला अस्पताल ले कर गए जहां चिकित्सकों ने मृत्यु घोषित कर दिया था जिसके बाद शव को पुनः विद्यालय के पास लाया गया और शव को रख कर प्रदर्शन शुरू हुआ जिसके बाद पहुंचे जिलाधिकारी, पुलिस कप्तान, अपर पुलिस अधीक्षक, उप जिलाधिकारी सहित इब्राहिमपुर, टाण्डा, अलीगंज आदि थानों की पुलिस पहुंच गई हालांकि अथक प्रयास के बाद प्रदर्शन को समाप्त कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज गया। जिलाधिकारी के निर्देश पर हेड मास्टर सहित तीन शिक्षकों को निलंवित करने का समाचार प्राप्त हुआ है। उक्त तीनों शिक्षकों को ग्रामीणों ने बंधक बना रखा था। बेसिक शिक्षा अधिकारी ने पीड़ित परिजनों की तत्काल आर्थिक सहायता किया।

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now