मेले में दस्तक एवं संचारी रोग नियंत्रण अभियान का शुभारंभ माननीय सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त द्वारा प्राथमिक स्वास्थ केंद्र मुरली छपरा के प्रांगण में किया गया

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

बलिया (नवल जी) जनपद के सभी 80 प्राथमिक स्वास्थ केंद्र (ग्रामीण एवं शहरी) में लगने वाले मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले का यह पाँचवा मेला था। इस मेले में दस्तक एवं संचारी रोग नियंत्रण अभियान का शुभारंभ हर एक प्राथमिक स्वास्थ केंद्र पर किया गया । इसी क्रम में माननीय सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मुरली छपरा के प्रांगण में दस्तक एवं संचारी रोग नियंत्रण अभियान एवं मुख्यमंत्री स्वास्थ्य मेला का शुभारंभ किया गया । विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के अंतर्गत मच्छर जनित रोगों से बचाव एवं संचारी रोग जैसे मस्तिक ज्वर, कालाजार, मलेरिया ,चिकनगुनिया, डेंगू, फाइलेरिया ,जेई ,ए ई एस आदि को नियंत्रित करने की तैयारियों पर जानकारी दी गयी। इस अवसर पर सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने कहा कि सरकार द्वारा विगत दो वर्षों में संचारी रोगो के नियंत्रण के लिए की गई प्रभावी कार्यवाहियों के कारण मस्तिक ज्वर आदि के कारणों से होने वाली मृत्यु दर में कमी आयी है और सरकार का प्रयास है कि संचारी रोगों से होने वाली मृत्यु दर को शून्य किया जाए । उन्होंने कहा कि 60 वर्ष से ऊपर के वरिष्ठ नागरिकों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उपचार मुहैया कराया जाए एवं उन पर विशेष ध्यान दिया जाए । दूर-दराज के इलाकों व मलिन बस्तियों में रहने वाले करीब 9,517 लोगों को इस दिन सेहत का वरदान मिला। इसमें 3,871 पुरुष, 4082 महिलाएं, 1,564 बच्चों का इलाज किया गया । इस पाँचवे आरोग्य मेले में जिले के दो शहरी स्वास्थ्य केंद्रों समेत कुल 80 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर निःशुल्क जांच व इलाज की सुविधा दी गई। इस अवसर पर फाइलेरिया से बचाव की दवा, दो वर्ष तक के बच्चों, गर्भवती महिलाओं, वृद्धजन और गंभीर बीमारियों से ग्रसित लोगों को छोड़कर सभी को खिलाई गयी । मेले में संचारी, गैर संचारी रोगों, गर्भवती, बाल और किशोर स्वास्थ्य से जुड़ी जांच पर खास जोर रहा। इस दौरान आयुष्मान भारत योजना के तहत करीब 1099 लाभार्थियों के गोल्डेन कार्ड भी बनाए गए | इस अवसर पर माननीय सांसद महोदय ने आयुष्मान भारत योजना के कुछ लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड भी वितरित किये ।
मुख्य चिकित्साधिकारी डा० प्रीतम कुमार मिश्र ने बताया कि इस मेले का उद्देश्य जनपद के सभी नागरिकों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने, स्वास्थ्य सुविधाओं को उनके समीप पहुंचाने, रोगों के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए जन समुदाय को जागरूक करने तथा बेहतर उपचार प्राप्त कराने एवं गंभीर रूप से ग्रसित मरीजों को चिन्हित कर उच्चीकृत स्वास्थ्य इकाइयों पर संदर्भन करना है । प्रत्येक रविवार को जनपद के 78 ग्रामीण प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, जबकि 02 शहरी स्वास्थ्य केंद्रों पर लगातार स्वास्थ्य मेले लगाए जाने हैं। मेले का आयोजन सुबह दस बजे से अपराह्न दो बजे तक किया जाएगा । उन्होने जनपदवासियों से अपील की कि स्वास्थ्य मेले के माध्यम से सरकार द्वारा दी जा रही निःशुल्क चिकित्सीय एवं स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ उठाएँ ।
इस अवसर पर अपर मुख्य चिकित्साअधिकारी/वेक्टर बॉर्न के नोडल डॉक्टर जे आर तिवारी,ज़िला क्षय रोग अधिकारी डॉ के०डी० प्रसाद, ज़िला कार्यक्रम प्रबन्धक अधिकारी डॉ आर०बी० यादव, जिला महामारी रोग विशेषज्ञ डॉक्टर जियाउल हुदा ,कार्यवाहक जिला मलेरिया अधिकारी नीलोत्पल कुमार , बाल विकास परियोजना अधिकारी श्रीमती इंदु यादव,डॉक्टर नवीन कुमार सिंह (सोनबरसा) डॉक्टर देव नीति प्रभारी चिकित्सा अधिकारी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मुरली छपरा, एवं समस्त चिकित्सक एवं कर्मचारी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मुरली छपरा उपस्थित रहे ।
मेले में मिलीं सुविधाएं
• बुखार समेत मौसमी बीमारियों की जांच
• गर्भवती व बच्चों का टीकाकरण
• दवा और सभी पैथालॉजी की जांच निःशुल्क
• निःशुल्क सैनेटरी नैपकीन वितरण
• नसबंदी के लिए पंजीकरण
• आंखों की निःशुल्क जांच
• क्षय रोग की जांच
• परिवार नियोजन के अस्थायी साधन का निःशुल्क वितरण
यह सुविधाएं भी रहीं मौजूद
• चिकित्सा व उपचार के अलावा संदर्भन की सुविधा
• गर्भावस्था, प्रसवकालीन व जन्म पंजीकरण का परामर्श
• बच्चों में डायरिया, निमोनिया रोकने के लिए परामर्श सुविधा
• मलेरिया, डेंगू, एवं कुष्ठ रोग की स्क्रीनिंग
• बीपी, शुगर, मुख, स्तन एवं सर्वाइकल कैंसर की स्क्रीनिंग
• तंबाकू और मद्यपान छोड़ने के लिए परामर्श

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now