सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

बलिया में लाकडाउन के नियमों का पालन कराने वालो का एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमे पुलिस के साथ नगरपालिका के कर्मचारी भी शामिल है| एक दुकान को बंद कराने के दौरान टीम में शामिल बलिया नगर पालिका के सफाई कर्मचारी दुकान का सामान लुटते नजर आ रहे है। इस पूरी घटना के दौरान पुलिस मूकदर्शक बनी रही, वहीं बलिया नगरपालिका के अध्यक्ष का कहना है कि आर्यन ग्रुप से जुड़े सभी सफाई कर्मचारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा कर उनके तनख्वाह से व्यापारी के हुए नुकसान कि भरपाई करायी जाएगी।
यु तो कोरोना वायरस से बचाव का सबसे अच्छा तरीका लाकडाउन है पर बलिया में लाकडाउन का पालन कराने वाले ही एक वायरल वीडियो में दुकान को लुटते नजर आये। दरअसल बलिया शहर के गुदरी बाजार में फल ,सब्जी और जनरल स्टोर की दुकानों को बंद करने के लिए प्रशासनिक अधिकारी, पुलिस और नगरपालिका के कर्मचारी निकले हुए थे उसी दौरान शहर के एक दुकान को बंद कराते समय नगरपालिका के सफाई कर्मचारी दुकान के बाहर रखे सामान को लुट कर भागना शुरू कर दिया और ये पूरा वाक्य सीसी टीवी कैमरे में कैद हो गया। पीड़ित व्यापारी का कहना है कि सुबह ७ से १० बजे तक लाक डाउन के दौरान दुकान खोलने कि छुट दी गयी है बावजूद उसके साढ़े नौ बजे ही पुलिस ने जबरन दुकान बंद करा दिया और बाहर पड़े सामान को मौजूद पुलिस के सामने ही लुट लिया गया।
शर्मसार कर देने वाली ये घटना सीसी टीवी फुटेज में मिनट दर मिनट कैद हो गयी और ये सवाल भी खड़ा कर गयी कि आखिरकार पुलिस और प्रशासन के सामने सफाई कर्मी दुकान के सामान को लुटते रहे और सभी खामोश खड़े रहे। इस पुरे मामले में बलिया के नगरपालिका अध्यक्ष अजय कुमार का कहना है कि वायरल वीडियो देखने के बाद इस मामले से जुड़े आर्यन ग्रुप के सफाई कर्मियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा कर उनके वेतन से दुकानदार के नुकसान कि भरपाई कि जाएगी वही इस पुरे मामले पर जिला प्रशासन और ईओ नगर पालिका द्वारा योगी सरकार को बदनाम करने कि साजिश बताई।

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now