सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अम्बेडकरनगर: जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र एवं पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी द्वारा एकलव्य स्टेडियम व रमाबाई राजकीय महिला महाविद्यालय में बनाए गए क्वॉरेंटाइन विंग का औचक निरीक्षण किया गया। एकलव्य स्टेडियम में कुल 365 लोगों को क्वॉरेंटाइन किया गया है। इस दौरान जिलाधिकारी ने एकलव्य स्टेडियम में उपस्थित उप निरीक्षक पुलिस इकबाल बहादुर सिंह को निर्देश देते हुए कहा कि बाहर से आए लोगों पर पैनी नजर रखा जाए, कोई भी मजदूर फरार ना होने पाए। उन्होंने यह भी निर्देश किया कि लोगों को किसी प्रकार का दिक्कत नहीं होना चाहिए। उपजिलाधिकारी अकबरपुर को जिलाधिकारी ने निर्देश देते हुए कहा कि सभी लोगों को भरपेट गुणवत्तापूर्ण भोजन उपलब्ध कराने में कोई कोताही नहीं होनी चाहिए।मजदूरों के रहने हेतु क्वॉरेंटाइन केंद्र में सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त पाई गई। रमजान पर्व के दृष्टिगत जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि रोजा इफ्तार हेतु क्वॉरेंटाइन सेंटर पर सभी आवश्यक वस्तुएं जरूरतमंदों को समय से उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाए इस कार्य में कतई कोताही न बरती जाए।इसके उपरांत जिलाधिकारी ने एकलव्य स्टेडियम में संचालित कम्युनिटी किचन का भी जायजा लिया। कम्युनिटी किचन अपना आदर्श ट्रेडर द्वारा जिला प्रशासन के निर्देशन में संचालित किया गया है। जिलाधिकारी ने कम्युनिटी किचन मैं कार्य कर रहे कर्मचारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि सभी कर्मचारी नियमित हाथ धोते रहें, साफ सफाई पर विशेष ध्यान देंl इस दौरान डीएसओ को उन्होंने फोन पर कड़े निर्देश दिए कि क्वॉरेंटाइन सेंटर में संचालित कम्युनिटी किचन के वर्करों के साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देते हुए सभी वर्करों को हाथ धोने हेतु साबुन, सेनीटाइजर एवं मास्क अवश्य उपलब्ध कराएंगे।जिलाधिकारी ने डीएसओ को हिदायत देते हुए कहा कि कम्युनिटी किचन की व्यवस्था को दुरुस्त किया जाए, अन्यथा की दशा में कार्यवाही तय की जाएगी। इसके उपरांत जिलाधिकारी ने रमाबाई राजकीय महिला महाविद्यालय मैं बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटर का भी जायजा लियाl इस दौरान जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी अकबरपुर को उन्होंने निर्देशित किया कि बाहर से आए हुए मजदूरों को किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए। व्यवस्थाओं को देखकर जिलाधिकारी ने संतोष व्यक्त किया परंतु साथ-साथ उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि शासन के निर्देश के क्रम में किसी भी मजदूर को भोजन पानी, अथवा जरूरत कि जो भी आवश्यक वस्तुएं हैं उन्हें पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराया जाए साथ ही साथ इन समस्त मजदूरों का नियमित जांच भी किया जाए। यदि कोई भी मजदूर संदिग्ध स्थिति में दिखता है तो उसे तत्काल जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया जाए। उन्होंने कहा लगाए गए अधिकारी जिम्मेदारी से अपने कार्यों को करते रहे यदि कहीं से कोई शिकायत आती है तो संबंधित के खिलाफ दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी।

जिला आस्पताल में कोरोना के सन्दिग्ध मरीज की मौत होने स्व मचा हड़कम्प – इसे टच कर पढिये पूरी खबर

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now