सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

बलिया (अखिलेश सैनी) खाद्य एवं रसद विभाग की लचर कार्यशैली व पूर्ति निरीक्षक की मिली भगत के चलते दबंग कोटेदार की मनमानी से कार्ड धारकों को वजन से कम राशन मिल रहा है। नगरा थाना क्षेत्र के ग्राम सिसवार कला के कोटेदार नन्दलाल सिंह सभी राशन लेने वालों को प्रति कार्ड चार से पांच किलो चावल व गेहूं कम दे रहे हैं। इस संदर्भ में ग्राम सभा सिसवार कला  के निवासी कार्डधारक परेशान दिखाई दे रहे हैं। 

 इसी गांव का निवासी मुकेश कुमार का कहना है कि कोरोना की महामारी के इस दौर में जबकि हमारे पास और कोई चारा नहीं है ऐसे समय में कोटेदार नन्दलाल सिंह के द्वारा कम राशन देने से भूखमरी की नौबत आ जाएगी। कार्डधारक के अनुसार, जब कोटेदार के द्वारा पांच किलाे कम दिये गये  राशन पर आपत्ति जताई ताे काेटेदार बत्तमीजी व गाली-गलाैज पर उतर आया । 

कार्ड धारकाें का कहना है कि इस संदर्भ में सप्लाई इंस्पेक्टर को भी शिकायत किया गया लेकिन उनके द्वारा भी कोई कार्यवाही न किए जाने से उसकी दबंगई बढ़ गई है। कार्ड धारकों से प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया गया है कि कोटेदार की खुलेआम घट तौली जारी है। वह प्रति कार्ड पांच किलो राशन कम दे रहा है।

जबकि कई कार्ड धारकों ने इसका विरोध किया तो कोटेदार बदतमीज़ी पर उतर आया। उल्टे उसने आरोप लगाया कि बाहर का कांटा खराब होगा इसलिए वहां पर कम निकल रहा है। लोगों ने मौके पर बताया कि लाकडाऊन के दौरान जब शासन पूरा राशन वितरण के लिए निर्देश दिया है तो आखिर शासन के द्वारा कार्ड धारकों को वितरित किए जाने वाले राशन में कोटेदार किसकी शह पर वजन से कम राशन दे रहा है।

जबकि कोटेदार को शासन की तरफ से अतिरिक्त खर्च भी मिलता है लेकिन कोटेदार अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। लोगों ने मुख्यमंत्री, जिलाधिकारी तथा जिला पूर्ति अधिकारी बलिया से न्याय की मांग की है। कार्डधारकाें ने शासन द्वारा निर्धारित मानक से कम राशन देने के लिए कोटेदार के ऊपर सख्त कार्यवाही की मांग किया है जिससे कि किसी भी कार्ड धारक के राशन में कटौती या घटतौली न कर सके।

सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now