वक्फ़ संपत्तियों पर खुलेंगे व्यवसायिक प्रतिष्ठान, मिलेगा रोज़गार : सैय्यद अली ज़ैदी

Sharing Is Caring:
सूचना न्यूज़ Whatsapp Join Now
Telegram Group Join Now

अंबेडकरनगर: उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के अधीन शिया मुसलमानों की वक्फशुदा संपत्तियां हैं, जिनकी देखभाल का उत्तरदायित्व बोर्ड पर है। संपत्तियों की शक्ल में इमामबाड़े, दरगाह, रौजे के अलावा आवासीय तथा व्यवसायिक भवन होते हैं। उससे होने वाली आय से ही उपरोक्त संपत्तियों की देखभाल होती है। यह बात उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन सैय्यद अली जैदी ने कही।
नगर के मीरानपुर में पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष मरहूम चौधरी सिब्ते मोहम्मद नक़वी के आवास पर पहुंचे शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन अली जैदी ने कहा कि लगभग 9000 संपत्तियां बोर्ड की देखरेख में है। अनेक संपत्ति माफियाओं के चंगुल में है, जिन्हें सरकार की सहायता से मुक्त कराने की मुहिम चलाई जा रही है। खाली पड़ी जमीनों पर व्यवसायिक प्रतिष्ठान खोलने की योजना बनाई जा रही है, जिससे लोगों को रोजगार मुहैया हो सकेगा।उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ को विकास पुरुष बताते हुए कहा कि वर्तमान समय में मुसलमानों की स्थिति में उल्लेखनीय सुधार हो रहा है। यहां पहुंचने पर अली जैदी, भाजपा नेता नवाब मोहम्मद अली, सामाजिक कार्यकर्ता सैयद अबूजर रिजवी, सैय्यद मसरुर आलम जैदी एडवोकेट, डॉ. सैय्यद हैदर मेहदी का मोहम्मद अस्करी नक़वी आबिस, हसन अस्करी मजलिसी, सैय्यद सज्जाद हुसैन, अलमदार अब्बास रिजवी, आरिफ अनवर अकबरपुरी, मेहदी रजा आफताब, इम्तियाज हुसैन, यासिर हुसैन, रेहान जैदी, गुलाम अब्बास संजय, रेहान अब्बास, शकील सलमानी, तनवीरूल हसन, बाकर रजा, ताहिर हुसैन, अय्यूब खान, कैफ़ी, ज़मन आदि ने माल्यार्पण कर स्वागत किया। स्वागत से अभिभूत शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष सैय्यद अली जैदी ने उपस्थित लोगों की भूरि भूरि प्रशंसा किया।

अन्य खबर

पकरी में मजलूमें कर्बला का मातम व जुलूसे अमारी की तैयारियां तेज़

डीजे बजाने से मना करने पर दबंगों ने डीजे संचालक की जमकर की पिटाई – मुकदमा दर्ज

अज्ञात वृद्ध ने घाघरा नदी में लगाई छलांग – तलाश जारी

error: Content is protected !!