अम्बेडकरनगर: राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश के निर्देश पर उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष ने 02 मई अर्थात कल होने वाली मतगणना के बहिष्कार का एलान कर दिया है जिससे प्रशासन के हाथ पांव फूल गए हैं हालांकि सीडीओ ने दावा किया है कि उनकी तैयारी पूरी है।


कोरोना संक्रमण के बढ़ते ग्राफ तथा मृतकों की लगातार बढ़ती सूची को देखते हुए उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष अरुण कुमार सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय शौक्षिक महासंघ के आदेश के बाद 02 मई को होने वी मतगणना में कोई भी शिक्षक शामिल नहीं होगा। संघ ने कहा कि अभी तक 800 शिक्षक कोरोना संक्रमित होकर अपनी जान खो चुके हैं जबकि हज़ारों की संख्या में शिक्षक व उनका परिवार संक्रमित है लेकिन चुनाव स्थगित करने की मांग को दरकिनार कर दिया गया जिससे स्थिति भयावह हो गई है।
शिक्षक संगठनों द्वारा मतगणना बहिष्कार की सूचना से प्रशासनिक अमले में हड़कम मच गया। उक्त सम्वन्ध में अपर जिलाधिकारी डॉक्टर पंकज वर्मा से वार्ता करने का प्रयास किया गया लेकिन बात नहीं हो सकी जबकि जिलाधिकारी सैमुअल पॉल एन के पिता का निधन होने के कारण श्री सैमुअल घर चले गए हैं। शिक्षक संगठनों के बहिष्कार से मतगणना पर पड़ने वाले प्रभाव के लिए मुख्य विकास अधिकारी घनश्याम मीणा से सूचना न्यूज़ टीम ने मोबाइल पर वार्ता किया तो उन्होंने कहा कि शिक्षकों के बहिष्कार की सूचना प्राप्त हो रही है लेकिन हमारी तैयारी पूरी है और समय से मतगणना शुरू होगी तथा सरकार की तरफ से अगर कोई विशेष निर्देश आता है तो उसका पालन कराया जाएगा।