अम्बेडकरनगर (रिपोर्ट: आलम खान एडिटर) राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण व उत्तर प्रदेसग राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देश एवं जनपद न्यायाधीश / अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण आदेश पर आगमी 13 अगस्त दिन शनिवार को जनपद न्यायालय में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा है जिसमें 37 हज़ार से अधिक मुकदमों को पगया गया है।
उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देश पर आगामी राष्ट्रीय लोक अदालत में लघु प्रकृति के फौजदारी वाद, एनआई एक्ट की धारा 138 भारतीय उत्तराधिकार अधिनियम, वैवाहिक / पारिवारिक बाद दीवानी वाद, मोटर दुर्घटना एवं प्रतिकर वाद, विद्युत अधिनियम से संबन्धित वाद, श्रम वाद एवं भूमि अध्याप्ति वाद राजस्व वाद आदि सहित अन्य प्रकार के वादों का आपसी सुलह-समझौते के आधार पर अधिक से अधिक निस्तारण किया जाना है।

सिविल जज (सीनियर डिवीजन) / प्रभारी सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सुश्री प्रियंका सिंह ने बताया गया कि आगामी राष्ट्रीय लोक अदालत आगामी 13 अगस्त को जनपद न्यायालय के 11627 वाद, बैंक के 3500 वाद, विद्युत विभाग के 2315 वाद, राजस्व विभाग के 5387 वाद एवं अन्य विभागों के 14795 वाद सहित कुल मिलाकर अभी तक 37624 वाद नियत किये गये हैं।
सुश्री प्रियंका ने अपील किया कि आगामी राष्ट्रीय लोक अदालत में अपने अधिक से अधिक संख्या में वाद सुलह समझौता के माध्यम से नियत कर निस्तारित करवायें एवं 13 अगस्त को आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत का लाभ उठायें।