अम्बेडकरनगर (सूचना न्यूज़ कार्यालय) रूहानी इलाज़ के लिए विश्व विख्यात दरगाह मखदूम अशरफ पर आने वाला प्रत्येक व्यक्ति मखदूम पाक का मेहमान है और मेहमान का आदर व इज़्ज़त करना सुफिज्म में महवपूर्ण स्थान व दरगाह किछौछा की परंपरा है तथा मेहमान का खुले दिल से स्वागत करना हमारे नबी का हुक्म भी है।

उक्त बातें दरगाह किछौछा के साहिबे सज्जादा अल्लामा मौलाना सैय्यद शाह मोइनुद्दीन अशरफ उर्फ मोइन मियां ने सूचना न्यूज़ टीम से मोबाइल पर वार्ता करते हुए कहा और उन्होंने कहा कि 12 अक्टूबर को महाराष्ट्र के सपा प्रदेश अध्यक्ष अबु आसिम आज़मी का आगमन दरगाह किछौछा में हो रहा है इसलिए उनके स्वागत में कोई कोर कसर न रखें। उन्होंने सभी अहले मुहब्बत से अपील करते हुए कहा कि आस्ताना मखदूम अशरफ सभी के लिए खुला हुआ है और दरगाह आने वाला हर कोई मखदूम पाक का मेहमान है इसलिए श्री आज़मी के साथ भी किसी तरह की कोई नाज़ेबा हरकत ना की जाए बल्कि उनका भव्य स्वागत किया जाए।

दूसरी तरफ नगर पंचायत अशरफपुर किछौछा के अध्यक्ष पति व एमएलसी प्रतिनिधि सैय्यद गौस अशरफ उर्फ गौसी मियां ने बताया कि महाराष्ट्र के सपा प्रदेश अध्यक्ष अबु आसिम आज़मी का नगर पंचायत कार्यालय पर दरगाह किछौछा वासियों की तरफ से सामूहिक रूप से भव्य स्वागत अभिनन्दन किया जाएगा तथा उन्हें साथ लेकर आस्ताना मखदूम अशरफ पर जाया जाएगा। उन्होंने कहा कि श्री आज़मी खानदान के ही एक बुजुर्ग हस्ती के उर्स में शामिल होने आ रहे हैं और दरगाह किछौछा सदैव दिल खोल कर मखदूम पाक के मेहमानों का स्वागत करता है और श्री आज़मी का भी भव्य स्वागत किया जाएगा।

आपको बताते चलेंकि श्री आज़मी द्वारा गुजरात में पकड़े गए ड्रग्स के ज़ख़ीरे के मामले में साहिबे सजदा मोइन मियां की भी जांच कराने की बात किया था जिससे सूफीवाद से सम्बन्ध रखने वालों के साथ साथ मोइन मियान के गृह जनपद में भी आक्रोश चल रहा था और कुछ लोगों द्वारा उनके आगमन पर काला झंडा दिखा कर अपना आक्रोश प्रकट करने की योजना भी बनाई जा रही थी जिसे सूचना न्यूज़ टीम ने रविवार को प्रमुख्यत: से प्रसारित किया था जिसके बाद सपा नेताओं में हड़कंप मच गया था।

दरगाह मखदूम अशरफ किछौछा के मोतवल्ली व साहिबे सजदा मौलाना सैय्यद शाह मोहिउद्दीन अशरफ ने भी कहा कि दरगाह किछौछा अंतरराष्ट्रीय बंधुत्व का केंद्र है और दरगाह में आने वाला प्रत्येक व्यक्ति मखदूम पाक का मेहमान है और मेहमान का स्वागत व इज़्ज़त करना हमारी परंपरा है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के सपा प्रदेश अध्यक्ष अबु आसिम आज़मी के दरगाह मखदूम अशरफ पर स्वागत अभिनन्दन है और दरगाह परिसर में किसी को भी मेहमान के साथ अभद्रता करने की अनुमति किसी भी कीमत पर नहीं दी जा सकती है।

दरगाह इंतेजामिया कमेटी के उपाध्यक्ष मौलाना आफताब मिस्बाही ने कहा कि श्री आज़मी को काला झंडा दिखाने वालों की मंशा दरगाह को बदनाम करने की साजिश है और ये राजनीति से प्रेरित प्रतीत होता है। उन्होंने दावा किया कि दरगाह परिसर में मेहमान के साथ किसी भी तरह से नाज़ेबा हरकत नहीं होने दिया जाएगा।

पीरजादागान इंतेजामिया कमेटी के उपाध्यक्ष सैय्यद आले मुस्तफा उर्फ छोटे बाबू ने कहा कि साहिबे सज्जादा के खिलाफ श्री आज़मी का बयान गलत व निन्दानीय है लेकिन श्री आज़मी के दरगाह आगमन पर उनका स्वागत किया जाएगा क्योंकि मखदूम पाक के मेहमान के साथ बदसलूकी कदापि नहीं कि जा सकती है।

बहरहाल 12 अक्टूबर को महाराष्ट्र के सपा प्रदेश अध्यक्ष अबू आसिम आज़मी का दरगाह किछौछा में भव्य स्वागत किया जाएगा जिसकी तैयारियां जोरशोर से शुरू कर दी गई है।