बलिया (रिपोर्ट अखिलेश सैनी) संयुक्त किसान मोर्चा नव निर्माण किसान संगठन लोकनीति सत्याग्रह के तत्वाधान में 2 अक्टूबर से चंपारण से निकाली गई किसान जन जागरण पदयात्रा का गुरूवार को रसड़ा में भव्य स्वागत किया गया।
यह पद यात्रा तीन नये कृषि कानूनों को वापस लेने सहित 10 सूत्रीय मांगों को लेकर निकाली गई है जो विभिन्न मार्गों से होते हुए 20 अक्टूबर को पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचकर सम्पन्न होगी। पद यात्रियों की मुख्य मागों में छ: सौ किसानों के मौत के बावजूद सरकार क्यों खामोश हैं, तीनों नये कृषि को वापस लेने, एमएसपी पर कानूनी गारंटी क्यों नहीं, नौजवानों को रोजगार पर फैसला कब, सरकारी अस्पतालों की व्यवस्था कब तक सुधरेगी, पढ़ाई, दवाई, कमाई, महंगाई पर आज तक एजेंडा क्यों नहीं बना , लगातार बढ़ती अमीर-गरीब की खाई को जिम्मेदार कौन है, विदेशी कंपनियों के हाथ की कठपुतली सरकार कब तक बनी रहेगी आदि मांगे शामिल हैं। किसान पद यात्रा का स्वागत करने वालों में किसान नेता राघवेंद्र कुमार सहित कांग्रेस के विशाल चौरसिया, बैजनाथ राम, प्रदीप तिवारी, परशुराम राम, सुनील कुमार, आशुतोष पांडेय आदि शामिल रहे। किसान पद यात्रा रसड़ा के रास्ते गाजीपुर के लिए रवाना हो गई।